MFOI 2024 Road Show
  1. Home
  2. पशुपालन

Duck Farming: मुनाफे के इस रेस में मुर्गी पालन को पीछे छोड़ आगे निकल रहा बत्तख पालन का रोजगार

पशुपालन करने वाले किसानों को अगर पशुपालन व्यवसाय में अच्छा और दोगुना मुनाफा प्राप्त करना हो तो बत्तख पालन उनके लिए सबसे बेहतरीन विकल्प है. किसानों की आय को दोगुनी करने में बहुत कारगर साबित होगा.

स्वाति राव
स्वाति राव
Duck Farming
Duck Farming

आज के समय में खेती-बाड़ी के साथ–साथ पशुपालन का करोबार भी एक सफल कारोबार के रूप में उभरकर कर सामने आ रहा है. जी हाँ पशुपालन एक ऐसा कारोबार है जिसमें पूंजी भी कम लगती है साथ ही मुनाफा भी दमदार होता है. तो यदि आप भी पशुपालन कारोबार शुरू करने की सोच रहे हैं तो आपके लिए बत्तख पालन सबसे बेहतरीन विकल्प है. बत्तख पालन में किन चीजों की जरुरत होती है एवं कितना मुनाफा मिलता है, इस बात की जानकारी आज हम इस लेख के माध्यम से आपको बताने जा रहे हैं.

बता दें बत्तख पालन, मुर्गी पालन यानि पोल्ट्री फार्मिंग कारोबार से ज्यादा किफायती और मुनाफे का सौदा साबित हो सकता है. बत्तख पालन की सबसे बड़ी खासियत है कि बत्तख पालन में पशुओं में बीमारियों का खतरा कम रहता है, साथी ही यह पशु अपने आप को मौसम के अनुसार ढाल लेते हैं. बत्तख पालन भारत में पश्चिम बंगाल, असम, ओडिशा, केरल, आन्ध्र प्रदेश आदि राज्यों में अधिक किया जाता है.

बत्तख पालन में बत्तख का आहार (Duck Feed)

बत्तख पालन के लिए आहार बहुत बड़ा विषय नहीं बनता है. पानी में रहने वाले कीड़े-मकोड़े, छोटी मछलियाँ, मेंढक आदि इनके भोजन के लिए इस्तेमाल किए जा सकते हैं.

एक बार में कितने अंडे देती है बत्तख (How Many Eggs Does A Duck Lay At A Time?)

बत्तख एक बार में करीब 40–50 अंडे देती है. वहीँ वजन की बात करें तो करीब 15 से 20 ग्राम प्रति अंडा का वजन होता है. इसके आलावा बत्तख के अंडे देने का समय सुबह का होता है. अंडे का छिलका बहुत मोटा होता है, इसलिए टूटने का डर भी नहीं रहता.

बत्तख पालन के लिए जरुरी बातें (Important Things For Duck Farming)

  • बत्तख पालन के लिए ज्यादा जगह की जरुरत नहीं पड़ती, इसके अलावा जरुरी नहीं कि आप इसके लिए कोई विशेष तालाब बनवाएं या कोई बड़ा घेराव करें. आप नजदीकी तालाब में भी बत्तख पालन कर सकते हैं.

  • जब बत्तख व्यस्क होकर अंडे देती है तो उनके लिए बॉक्स का इंतजाम करना चाहिए. एक बक्से में तीन बत्तख रख सकते हैं.

  • बत्तख पालन की जगह बहुत साफ़ और सुथरा होनी चाहिए.

  • बत्तख के अण्डों को रखने के लिए एक छोटी बॉक्स 12x12x18 के नाप का होना चाहिए.

  • जहाँ अंडे रखें हो वहां बिजली की अच्छी व्यवस्था होनी चाहिए.

  • इसके अलावा बत्तख के बॉक्स के आसपास नालियों की व्यवस्था करें जिससे बत्तखों को पानी मिलता रहे.

  • पीने को पानी हमेशा साफ़ और सुथरा दें

बत्तख की प्रमुख नस्लें (Important Duck Breed)

  • इसके आलावा हम आपको बत्तख की कुछ अच्छी नस्ल की जानकारी देने जा रहे हैं, जिनके अंडे की कीमत बाज़ार में बहुत अधिक होती है साथ ही बत्तख का मांस भी अच्छा होता है.

  • इंडियन रनर और कैम्पल ये दो नस्ल जो अन्य बत्तख के मुकाबले ज्यादा अंडे देती हैं. कैम्पल नस्ल की बत्तख साल में करीब 300 अंडे देती है. कैम्पल नस्ल को सबसे अच्छी नस्ल में गिना जाता है.

English Summary: Duck Farming is leaving behind poultry in this race for profit Published on: 08 April 2022, 04:25 IST

Like this article?

Hey! I am स्वाति राव. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News