1. पशुपालन

50 से 55 लीटर तक दूध देती है हरधेनु गाय, इस नस्ल के सीमन के लिए यहां करें संपर्क

कंचन मौर्य
कंचन मौर्य
cow

गाय पालन करके दूध का व्यवसाय करना बहुत ही लाभकारी माना जाता है. इस व्यवसाय को हम लोग (Dairy Farming) कहते हैं. आज के समय में कई किसान और पशुपालक इस व्यवसाय से बहुत अच्छा मुनाफ़ा कमा रहे हैं. अगर आप भी पशुपालक हैं या फिर पशुपालन करना चाहते हैं, तो आपको गाय की उन्नत नस्लों की जानकारी ज़रूर रखनी चाहिए, क्योंकि गाय की जितनी अच्छी नस्ल होगी, मुनाफ़ा उतना ही अच्छा मिल पाएगा. आज हम आपको गाय की ऐसी ही एक उन्नत नस्ल के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसको पालकर आप बड़े स्तर पर दूध का व्यवसाय कर सकते हैं. गाय की इस उन्नत नस्ल का नाम हरधेनु गाय है.

दरअसल, हरधेनु गाय नस्ल को हरियाणा के लाला लाजपत राय पशु-चिकित्सा और पशु विज्ञान विश्वविद्यालय (लुवास) के वैज्ञानिकों ने 3 नस्लों से विकसित किया है. बता दें कि उत्तरी-अमेरीकी (होल्स्टीन फ्रीजन), देसी हरियाणा और साहीवाल नस्ल की क्रॅास ब्रीड गाय हरधेनु करीब 50 से 55  लीटर तक दूध दे सकती है. इस नस्ल के अंदर उत्तरी-अमेरिका (होल्स्टीन फ्रीजन) का 62.5 प्रतिशत खून है, साथ ही हरियाणा और साहीवाल नस्ल का 37.5 प्रतिशत खून मौजूद है.

इस शोध के वैज्ञानिकों की मानें, तो हरधेनु गाय की नस्ल हरियाणा क्षेत्र के लिए बहुत उपयुक्त मानी जाती हैं. इसका पालन करके पशुपालक बहुत अच्छा लाभ कमा सकते हैं, क्योंकि यह जल्दी बढ़ने वाली नस्ल है. अगर हरधेनु की तुलना अन्य गाय से करें, तो स्थानीय नस्ल रोजाना औसतन करीब 5 से 6 लीटर तक दूध देती है, लेकिन हरधेनु गाय रोजाना औसतन करीब 15 से 16 लीटर तक दूध दे सकती है. बता दें कि यह गाय एक दिन में करीब 40 से 50  किलो हरा चारा खाती है, साथ ही 4 से 5  किलो सूखा चारा खाती है.

ये खबर भी पढ़ें: Business Ideas for Women: महिलाएं घर से शुरू करें ये बिजनेस, हर महीने होगी अच्छी कमाई !

jarshi cow

हरधेनु गाय की खासियत  

  • यह गाय करीब 20 महीने में प्रजनन के लिए तैयार हो जाती है, जबकि इसके लिए स्थानीय नस्ल करीब 36 महीने का समय लगाती हैं.

  • यह गाय 30 महीने की उम्र में ही बछड़ा देना शुरू कर देती है, जबकि अऩ्य नस्ल 45 महीने में बछड़ा देती हैं.  

  • इन गाय की दूध देने की क्षमता ज्यादा होती है.

  • इनके दूध में फैट की मात्रा भी ज्यादा पाई जाती है.

  • यह गाय किसी भी तरह के तापमान में रह सकती हैं.

  • इससे 50 से 55 लीटर तक दूध प्राप्त कर सकते हैं.

अगर किसी पशुपालक को इस गाय के नस्ल के सीमन चाहिए, तो वह लाला लाजपत राय पशु विश्वविद्यालय से संपर्क कर सकते हैं. इसके लिए आपको 0166- 2256101 या फिर 0166- 2256065 पर संपर्क करना होगा. बता दें कि मौजूदा समय में इस नस्ल की करीब 250 गाय फार्म में हैं. जहां से इस नस्ल के सांड का सीमन ले सकते है.

ये खबर भी पढ़ें: अनोखी योजना: गोद लीजिए बेसहारा पशु, नगर निगम पालकर आपको देगा आधा दूध

English Summary: Animal Husbandry,Complete information about Hardhenu cow, which gives 50 to 55 liters of milk for cattle

Like this article?

Hey! I am कंचन मौर्य. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News