मल्चर और हैपी सीडर जैसे उपकरणों पर राज्य सरकार दे रही 80 फीसद तक की सब्सिडी

मनीशा शर्मा
मनीशा शर्मा

मौजूदा दौर में सभी किसानों के लिए उन्नत किस्म के कृषि मशीनरी को खरीदना आसान नहीं है. क्योंकि बहुत सारे ऐसे किसान है जो कीमती कृषि मशीनरी खरीदने में सक्षम नहीं है. इन्हीं किसानों के मद्देनजर केंद्र व राज्य सरकार समय-समय पर कृषि यंत्र पर सब्सिडी मुहैया करती रहती है. ताकि जो किसान कीमती कृषि यंत्र खरीदने में सक्षम नहीं है वो सब्सिडी पर कृषि यंत्र खरीद सकें. इसी कड़ी में पंजाब सरकार ने किसानों की समस्याओं को देखते हुए कृषि उपकरणों में दी जाने वाली सब्सिडी की आखिरी तारीख बढ़ा दी है. राज्य सरकार ने ऐसा फैसला इसलिए लिया है कि हर जिले का किसान इसका फायदा उठाकर उन्नति तरीके से खेती कर सके.

जिले के कृषि अधिकारी बलदेव सिंह के अनुसार पंजाब के किसान अब 31 जुलाई तक खेती के उपकरणों में सरकार द्वारा मिल रही सब्सिडी का फायदा ले सकते हैं. दरअसल उन्होंने बताया कि जीरो ड्रिल, पैडी स्ट्राय, चॉपर, पालायो हाइड्रोलिक, मलचर और हैपी सीडर जैसे उपकरणों को 50 फीसद की सब्सिडी के अंतर्गत किसानों को दी जा रही है. अगर किसी किसानों को औजार लेना है तो वे सब्सिडी फॉर्म भरें, इसके लिए वे आधार कार्ड, 3 फोटो, टैक्टर की कॉपी, जमाबंदी आदि का ब्यौरा उन्हें देना होगा.

गौरतलब है कि बाढ़ प्रभावित जिलों के किसानों के इन उपकरणों को यदि किसी सहकारी या किसान समूहों से प्राप्त किया जाता है तो 80 फीसदी की सब्सिडी का फायदा मिलेगा. हालांकि 8 किसानों का समूह अगर 10 लाख का उपकरण खरिदता है तो उसे 8 लाख रूपए की सब्सिडी मिलेगी. समूह में 2 महिला सामान्य वर्ग की, 2 महिला एससी वर्ग की, 4 सामान्य वर्ग के पुरूष किसान, शामिल होना अनिवार्य है. इस खबर के बारें में और अधिक जानकारी के लिए आप http://agricoop.nic.in/hi पर संपर्क कर सकते है

Like this article?

Hey! I am मनीशा शर्मा. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News