MFOI 2024 Road Show
  1. Home
  2. सरकारी योजनाएं

PoCRA Yojana 2022: पोखरा योजना से किसानों की आय के साथ बढ़ेगी मिट्टी की गुणवत्ता, ऐसे करें आवेदन

PoCRA Yojana के नाम से एक परियोजना है, जिसे महाराष्ट्र राज्य के किसानों के कल्याण के लिए शुरू किया गया है. इस परियोजना के तहत राज्य सरकार किसानों को जलवायु परिवर्तन और पानी की तैयारी के लिए तैयार करती है. सरकार द्वारा इस योजना के लिए लगभग 4000 करोड़ का बजट मिलता है. यह योजना महाराष्ट्र सरकार और विश्व बैंक से जुड़ी हुई है.

रुक्मणी चौरसिया
रुक्मणी चौरसिया
Double Income of Farmers by PoCRA Scheme
Double Income of Farmers by PoCRA Scheme

महाराष्ट्र सरकार (Maharashtra) ने किसानों के हित में एक योजना शुरू की है. हर साल जलवायु परिवर्तन के कारण किसानों को कई समस्याओं का सामना करना पड़ता है. कभी सूखे की वजह से तो कभी तेज बारिश की वजह से और इसके अलावा कई बार उन्हें खेती में बहुत ज्यादा नुकसान होता था. लेकिन घाटे में चलकर वे अपने परिवार के लिए ज्यादा पैसा नहीं कमा पाते हैं. इतने सारे किसान कृषि में भारी नुकसान के साथ आत्महत्या करते हैं. इन सभी के मद्देनज़र महाराष्ट्र सराकर ने पोखरा योजना (PoCRA Yojana) की शुरुआत की है.

क्या है पोखरा योजना ग्राम 2022 (What is PoCRA Yojana Village 2022)

PoCRA Yojana के नाम से एक परियोजना है, जिसे महाराष्ट्र राज्य के किसानों के कल्याण के लिए शुरू किया गया है. इस परियोजना के तहत राज्य सरकार किसानों को जलवायु परिवर्तन और पानी की तैयारी के लिए तैयार करती है. इस योजना का दूसरा नाम नानाजी देशमुख कृषि संजीवनी योजना (Nanaji Deshmukh Krishi Sanjeevani Yojana) भी है.

यह परियोजना केवल महाराष्ट्र राज्य के चयनित गांव शुरू की गयी है. पोकरा योजना के तहत राज्य सरकार किसानों को नए तरीके से फसल उगाना सिखाती है. यह राज्य के किसानों के लिए बहुत ही उपयोगी योजना है. अब इस योजना की मदद से वे अपनी आय को दोगुना (Increase Farmer Income Scheme) कर सकते हैं. हम सभी जानते हैं कि आजकल खराब होने की वजह से क्या किसानों को इतनी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है.

पोखरा योजना कैसे करती है अपना काम (How PoCRA Yojana does its work)

इतने सारे गरीब किसानों को इस योजना का लाभ मिलता है और सरकार द्वारा इस योजना के लिए लगभग 4000 करोड़ का बजट मिलता है. यह योजना महाराष्ट्र सरकार और विश्व बैंक से जुड़ी हुई है. परियोजना के तहत चयनित गांवों में परियोजना टीम हर जगह की मिट्टी की जांच करती है और उन जगहों के लिए कृषि की सर्वोत्तम तकनीक की पहचान और पुष्टि करती है. बता दें कि इन सभी जिलों में पोकरा परियोजना के तहत काम 5 खंडों में किया जाता है.

पोखरा योजना ग्राम चरण 1  (PoCRA Yojana Step 1)

  • पहले खंड में पोकारा परियोजना कृषि जलवायु का समर्थन करती है और किसानों को कृषि की उत्पादन तकनीक को बदलने के लिए छोटे किसानों की क्षमता का लाभ उठाने के निर्देश देती है.

  • पहले खंड में गांवों में पानी के छोटे-छोटे हिस्सों की व्यवस्था करने की परियोजना है.

पोखरा योजना ग्राम चरण 2 (PoCRA Yojana Step 2)

  • किसान प्रमोटर कंपनी और किसान प्रोत्साहन संस्थान का प्रोत्साहन और किसान का हित दूसरे चरण में आता है.

  • गांवों में स्वयं सहायता समूह खोलना जो किसानों की हर स्थिति में मदद करें.

  • किसानों को जगह की जलवायु के अनुसार उस तरह के बीज की आपूर्ति करना है. बता दें कि इन बीजों का निर्माण महाराष्ट्र राज्य बीज निगम और एफपीओ द्वारा किया जाता है.

पोखरा योजना ग्राम चरण 3 (PoCRA Yojana Step 3)

  • कृषि के लिए जलवायु प्रशिक्षण, जागरूकता और योजनाओं के लिए संगठन का विकास करना.

  • प्रबंधन प्रशिक्षण संगठन और क्षेत्रीय विस्तार प्रबंधन प्रशिक्षण संगठन और कृषि विज्ञान केंद्र इसमें इनकी मदद करेंगे.

पोखरा योजना ग्राम चरण 4 और 5 (PoCRA Yojana Step 4 & 5)

इन दोनों खंड में बजट के साथ आर्थिक संरचना, प्राधिकरण नीति और पर्यावरण के लिए योजनाओं का पालन करना शामिल है. ताकि इस योजना के तहत राज्य सरकार किसानों को उनके भविष्य के लिए मदद कर सके.

पोखरा योजना पात्रता (PoCRA Yojana Eligibility)

  • योजना का लाभ केवल किसानों को मिलता है.

  • पात्र किसान महाराष्ट्र राज्य का होना चाहिए.

  • जिन गरीब किसानों को जलवायु के कारण नुकसान होता है, वे योजना के लिए आवेदन कर सकते हैं.

पोखरा योजना दस्तावेज़ (PoCRA Yojana Required Documents)

  • आधार कार्ड की फोटोकॉपी.

  • आवासीय प्रमाण प्रमाण पत्र.

  • आवेदक का पासपोर्ट साइज फोटो.

पोखरा योजना 2022 के लिए कैसे करें आवेदन (PoCRA Yojana 2022 Online Registration)

  • सबसे पहले पोकारा योजना की आधिकारिक वेबसाइट dbt.mahapocara.gov.in पर जाएं. 

  • यहां आपने होमपेज पर किसान, समुदाय, एफपीओ, एफपीसी, एफआईजी जैसे कई विकल्प देखे.

  • पोखरा किसान वर्ग चुने और क्लिक करें.

  • उसके बाद नानाजी देशमुख कृषि संजीवनी योजना पंजीकरण पर क्लिक करें.

  • फिर लॉगिन विकल्प पर क्लिक करने के बाद अपनी डिटेल्स भरें.

  • आपको अपने मोबाइल नंबर पर OTP प्राप्त होगा फिर उसको दर्ज करें.

  • नया पेज स्क्रीन पर खुलने के बाद गांवों की सूची देख सकते हैं.

English Summary: Soil quality will increase with farmers income from PoCRA scheme, apply like this Published on: 22 January 2022, 02:24 IST

Like this article?

Hey! I am रुक्मणी चौरसिया. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News