1. सरकारी योजनाएं

बिना गारंटी शिशु मुद्रा लोन के तहत अब 2% ब्याज की छूट पर आसानी से पाएं 50 हजार रुपए का लोन

केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने प्रेस कांफ्रेंस कर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा घोषित किए 20 लाख करोड़ रुपए के आर्थिक पैकेज (Economic  Package) के बारे में पूरी  जानकारी दी. इससे पहले उन्होंने  6 लाख करोड़ रुपए के आवंटन की घोषणा की थी. जिसमें MSME सेक्टर के पैकेज की घोषणा हुई थी. इस दूसरी कांफ्रेंस में उन्होंने प्रवासी मजदूरों, रेहड़ी व पटरी वाले लोगों के अलावा किसानों और शहर में रहने वाले गरीबों को कुछ हद तक राहत देने के लिए भी कई घोषणाएं की हैं. इसके अलावा सीतारमण ने शिशु मुद्रा लोन (Shishu Mudra Loan) के लिए बड़ी घोषणा की है.

मुद्रा योजना का लाभ लेने वालों को ब्याज (Interest) में 2 फीसद तक छूट प्राप्त होगी. जोकि  आने वाले 12 महीने तक मान्य होगी. शिशु मुद्रा लोन के लिए सरकार 1,500 करोड़ रुपए की लोगों को आर्थिक सहायता प्रदान करेगी. यह सहायता 1 साल तक ब्याज दर (Interest Rate) को घटाकर दी जाएगी. जिसका फायदा आने वाले समय में लगभग 3 करोड़ लोगों को मिलेगा. जिससे उनकी आर्थिक स्थिति में थोड़ा सुधार होगा. इसके अलावा उन्होंने ये भी बताया कि अब तक करीब 1. 62 करोड़ रुपए का लोन जनता को बांटा जा चुका है.

कौन ले सकता है Shishu Mudra Loan योजना का लाभ 

केंद्र सरकार का इस योजना को चलने के पीछे मुख्य मकसद यह है कि छोटे स्तर पर व्यापार करने वाले लोगों की आर्थिक मदद हो सके. इसलिए इस योजना द्वारा केवल छोटे व्यापारियों को ही लोन मिल सकेगा. बड़े कारोबारियों को इस योजना के तहत लाभ नहीं मिलेगा. इस योजना के तहत छोटा व्यापार, दुकान आदि खोलने के लिए केंद्र सरकार 50 हजार रुपए तक का लोन प्रदान करती है.

 शिशु मुद्रा लोन योजना के तहत ये बैंक देती है लोन

ग्रामीण बैंक

सरकारी बैंक

सहकारी बैंक

प्राइवेट बैंक

इस खबर से सम्बंधित अधिक जानकारी पाने के लिए आप नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स में आप अपना सवाल पूछ सकते हैं...

English Summary: Shishu mudra Loan: Under Guarantee Shishu Mudra Loan, now easily get a loan of 50 thousand rupees at a discount of 2% interest

Like this article?

Hey! I am मनीशा शर्मा. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News