पीएम मोदी आज रांची से किसानों और व्यापारियों के लिए पेंशन योजना शुरू करेंगे

मनीशा शर्मा
मनीशा शर्मा
farmers

पीएम किसान मानधन योजना के तहत केंद्र सरकार की ओर से  18 से 40 वर्ष के सभी छोटे और सीमांत किसानों को 60 वर्ष की आयु पूरी करने के बाद 3,000 रुपये मासिक पेंशन मिलेगी. इससे पहले  झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा था कि प्रधानमंत्री किसान योजना को "किसानों की सामाजिक सुरक्षा" के रूप में दिया जा रहा है. इसके अलावा  पीएम मोदी जल्द ही प्रधानमंत्री लघु व्यापारी मानधन योजना (pmlvmy)  के साथ-साथ 'स्वरोजगार' पेंशन योजनाएं भी शुरू करेंगे.

प्रधानमंत्री देशभर में 462 एकलव्य मॉडल आवासीय विद्यालयों की शुरुआत करेंगे. इसके अंतर्गत आदिवासियों के लिए देशभर में नवोदय विद्यालय की तर्ज पर एकलव्य मॉडल आवासीय विद्यालयों की स्थापना की जाएगी. अगले तीन वर्षों में पूरे देश में प्रखंड स्तर पर ऐसे 462 एकलव्य मॉडल स्कूल खोले जाएंगे. पीएम मोदी आज रांची में नए सचिवालय भवन का शिलान्यास भी करेंगे.  इसके साथ ही मोदी साहेबगंज जिले में गंगा नदी के किनारे बनने वाले मल्टी-मॉडल वेसल टर्मिनल का भी उद्घाटन करेंगे. मीडिया में आई जानकारी के अनुसार, किसान मानधन योजना के लिए आने वाले 3 सालों के लिए 10 हजार 774 करोड़ रुपये का परिव्यय रखा गया है. झारखंड के सीएम रघुबर दास, आदिवासी मामलों के केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा, राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू, राज्य के कृषि मंत्री रणधीर सिंह और सांसद संजय सेठ योजनाओं के शुभारंभ के शुभ आरंभ के दौरान प्रभात तारा मैदान में मौजूद रहेंगे.

farmers

पीएम किसान योजना के बारे में

प्रधानमंत्री किसान योजना (पेंशन योजना) के अंतर्गत केंद्र सरकार 60 वर्ष की आयु पूरा करने वाले किसानों को 3,000 रुपये प्रति माह न्यूनतम पेंशन प्रदान करके देश के 5 करोड़ छोटे और सीमांत किसानों के जीवन को सुरक्षित करेगी.  पेंशन योजना में अगले 3 वर्षों के लिए 10,774 करोड़ रुपये का परिव्यय है. गत वर्ष सितंबर माह  में, पीएम मोदी ने रांची से 'आयुष्मान भारत स्वास्थ्य योजना’ शुरू की थी. इस बार मोदी सरकार के द्वारा किसानों के लिए यह बड़ी घोषणा झारखंड में विधान सभा चुनाव से कुछ महीने पहले की जा रही है.

English Summary: PM Modi to launch pension scheme for farmers, traders from Ranchi today

Like this article?

Hey! I am मनीशा शर्मा. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News