MFOI 2024 Road Show
  1. Home
  2. सरकारी योजनाएं

PM Kusum Yojana : सोलर प्लांट लगवाने के लिए नहीं रखना होगा गिरवी, अब किसानों को मिलेगा फ्री लोन

किसानों को सिंचाई का एक अच्छा माध्यम देने के लिये प्रधानमंत्री कुसुम योजना की शुरुआत की गयी है. पीएम कुसुम योजना के अंतर्गत सरकार राज्य के किसानों को सिंचाई के लिए सौर ऊर्जा के माध्यम से चलने वाले सोलर पंप की सुविधा प्रदान करती है.

स्वाति राव
स्वाति राव
सोलर प्लांट लगवाने के लिए अब नही  पड़ेगी गिरवीं  रखने की जरुरत
सोलर प्लांट लगवाने के लिए अब नही पड़ेगी गिरवीं रखने की जरुरत

किसानों को सिंचाई का एक अच्छा माध्यम देने के लिये प्रधानमंत्री कुसुम योजना की शुरुआत की गयी है. पीएम कुसुम योजना के अंतर्गत सरकार राज्य के किसानों को सिंचाई के लिए सौर ऊर्जा के माध्यम से चलने वाले सोलर पंप की सुविधा प्रदान करती है.

बता दें कि प्रधानमंत्री कुसुम योजना (PM Kusum Yojana)  के तहत किसानों के डीजल पेट्रोल से चलने वाले पम्पों को सौर ऊर्जा पम्प में बदलने का कार्य शुरू किया है. इसके लिए किसानों को कम से कम 30 प्रतिशत ऋण बैंक द्वारा दिया जाता है एवं दस फीसदी का किसानों को भुगतान करना होता है. ऐसे में राजस्थान के किसानों के लिए अच्छी खबर है. राज्य के किसान अब कोलेटरल फ्री लोन के जरिये इस योजना का लाभ उठा सकते हैं. तो आइए इस योजना के बारे में बताते हैं.  

दरअसल,  राजस्थान के किसानों को पीएम कुसुम योजना ए (PM kusum scheme A ) के तहत बंजर व बेकार जमीन पर आधा किलोवाट से 2 मेगावाट तक के सोलर प्लांट लगाने के लिए बैंकों से बिना कोलेटरल सिक्योरिटी के भी लोन (Collateral Free Loan) मिल सकेगा. यानि अब प्लांट लगाने के इच्छुक किसानों को लोन के लिए कुछ गिरवी नहीं रखना पड़ेगा.

आवेदन तिथि (Application Date)

इस योजना का लाभ उठाने के लिए किसान जल्द आवेदन करें, क्योंकि इसमें आवेदन करने की अंतिम तिथि 28 फरवरी तय की गयी है. 

इसे पढ़ें - PM Kusum Yojana के तहत 70% सब्सिडी पर Solar Pump लगवाने के लिए जल्द करें आवेदन

ऊर्जा विभाग द्वारा मिली जानकारी (Information Received By The Department Of Energy)

ऊर्जा विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव डॉ. सुबोध अग्रवाल ने इस बात की जानकारी दी है कि  प्रधानमंत्री किसान ऊर्जा सुरक्षा एवं उत्थान महाअभियान (कुसुम योजना) तीन कंपोनेंट में संचालित हो रहा है. इसमें ए कंपोनेंट में राजस्थान बिजली वितरण निगमों के 33/11 केवी सब स्टेशन के 5 किलोमीटर दायरे में किसानों की बंजर व अनुपयोगी भूमि पर आधा किलोवाट से लेकर 2 मेगावाट क्षमता के सोलर एनर्जी प्लांट (Solar Energy Plant) की स्थापना कर सकते हैं.

3.14 रुपए प्रति यूनिट दर से बिकेगी बिजली (Electricity Will Be Sold At The Rate Of Rs 3.14 Per Unit)

इन सोलर सयंत्रों पर उत्पादित बिजली की 3 रुपए 14 पैसे की दर पर 25 साल तक खरीद की जाएगी. सोलर ऊर्जा उत्पादनकर्ता किसान की बिजली 25 साल तक खरीद की व्यवस्था भी सुनिश्चित हो गई है. इस व्यवस्था के तहत लोन की किस्त डिस्काम्स द्वारा सीधे बैंकों में काश्तकारों के खातों में जमा हो सकेगी. शेष रकम काश्तकार के खाते में जमा हो जाएगी.

English Summary: pm kusum yojana: to install a solar plant, there will be no need to mortgage, farmers will get free loan Published on: 04 February 2022, 01:55 IST

Like this article?

Hey! I am स्वाति राव. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News