MFOI 2024 Road Show
  1. Home
  2. सरकारी योजनाएं

Meri Fasal Mera Byora Portal पर 30 जून तक कराएं पंजीकरण, ऐसे करें आवेदन

हरियाणा सरकार मेरा पानी मेरी विरासत योजना के तहत किसानों को सब्सिडी देती है. इसके तहत धान की खेती नहीं करने वाले किसानों को सब्सिडी दी जाती है.

अनामिका प्रीतम
अनामिका प्रीतम
Meri Fasal Mera Byora Portal
Meri Fasal Mera Byora Portal

देशभर के किसानों को लाभ पहुंचाने के लिए राज्य सरकार से लेकर केंद्र सरकार तक कई योजनाएं चला रही हैं, लेकिन क्या आपने कभी कोई ऐसी योजना के बारे में सुना या पढ़ा है, जिसके तहत उन किसानों को लाभ मिलता है, जो धान की खेती नहीं करते हैं.

जी हां, ऐसी योजना हरियाणा सरकार के द्वारा चलाई जा रही है. अब आप सोच रहे होंगे कि भला ऐसी योजना की शुरुआत क्यों की गई है. तो चलिए इस लेख में जानते हैं. 

क्यों शुरु की गई मेरा पानी मेरी विरासत योजना?

हरियाणा के किसानों के लिए राज्य सरकार ‘मेरा पानी मेरी विरासत योजना’ चलाती है. इस योजना के तहत उन किसानों को लाभ मिलता है, जो धान की खेती नहीं करते हैं. दरअसल, प्रदेश में धान की खेती करने की वजह से भू-जल स्तर कम हो रहा है. यही वजह है कि सरकार किसानों को धान की खेती छोड़ने पर सब्सिडी मुहैया करा रही है. जी हां, हरियाणा सरकार ‘मेरा पानी मेरी विरासत योजना’ के तहत किसानों को धान की खेती को छोड़कर दूसरी फसलों की खेती करने पर सब्सिडी देती है.

योजना का उद्देश्य क्या है?

  • राज्य के भू-जल स्तर को बढ़ाना

  • जल का संरक्षण और सदुपयोग करना

  • धान की खेती की जगह दूसरी फसलों की खेती करने के लिए प्रेरित करना

किन किसानों को मिलता है योजना का लाभ ?

  • मेरा पानी मेरी विरासत योजना का लाभ केवल उन्हीं किसानों को मिलेगा, जो धान और बाजरा की जगह अन्य फसलों की खेती करेंगे

  • यही नहीं उन किसानों को भी इस योजना का लाभ मिलेगा, जो अपनी खेतों को खाली रखेंगे.

किसानों को कितना मिलता है अनुदान राशि ?

कृषि विभाग किसानों को प्रति एकड़ के हिसाब से 7 हजार रुपये मुहैया कराती है. हालंकि इस योजना का एक महत्वपूर्ण हिस्सा धान की सीधी बुवाई करना भी है. ऐसे में किसानों को धान की सीधी बुवाई करने पर भी 4000 रूपये की मदद दी जाती है.

ये खबर भी पढ़ें : मेरा पानी मेरी विरासत योजना को मिला किसानों का समर्थन, 8000 हेक्टेयर में कम हुई धान रोपाई

आवेदन की आखिरी तारीख 30 जून

राज्य के जो किसान भाई इस योजना के लिए पात्र है और इस योजना का लाभ लेना चाहते हैं, उनके लिए मेरी फसल मेरा ब्योरा पोर्टल (https://fasal.haryana.gov.in/ ) पर रजिस्ट्रेशन करवाना आवश्यक है. आवेदन की आखिरी तारीख 30 जून निर्धारित की गई है.

English Summary: know about mera paani meri viraasat yojana Published on: 09 June 2022, 05:27 IST

Like this article?

Hey! I am अनामिका प्रीतम . Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News