MFOI 2024 Road Show
  1. Home
  2. सरकारी योजनाएं

सौर सुजाला योजना: मनपसंद सौर पंप पर मिलेगी 20,000 रुपए की सब्सिडी, ऐसे करें आवेदन

सौर सुजला योजना के तहत छत्तीसगढ़ में किसानों को सरकार 3HP और 5HP क्षमता के सौर ऊर्जा संचालित सिंचाई पंप वितरित करेगी. अनुमान है कि इस सौर सिंचाई पंप योजना से लगभग 51,000 किसान लाभान्वित होंगे. यह योजना ऊर्जा विभाग द्वारा छत्तीसगढ़ राज्य अक्षय ऊर्जा विकास प्राधिकरण (CREDA) के माध्यम से लागू की गई है.

रुक्मणी चौरसिया
रुक्मणी चौरसिया
Chhattisgarh Saur Sujala Scheme
Chhattisgarh Saur Sujala Scheme

भारतीय अर्थव्यवस्था में कृषि क्षेत्र (Agriculture Sector in Indian Economy) का योगदान महत्वपूर्ण है. कृषि की स्थिरता के लिए विशेष रूप से पानी की कमी वाले क्षेत्रों में सिंचाई का महत्वपूर्ण महत्व है. इस कारण से, छत्तीसगढ़ सरकार (Chhattisgarh) ने बेहतर फसल के लिए रियायती दर पर सौर पंप वाले किसानों की सहायता के लिए सौर सुजाला योजना (Saur Sujala Scheme) शुरू की है. यह योजना ऊर्जा विभाग द्वारा छत्तीसगढ़ राज्य अक्षय ऊर्जा विकास प्राधिकरण (CREDA) के माध्यम से लागू की गई थी.

सौर सुजाला योजना (Saur Sujala Scheme)

  • छत्तीसगढ़ सरकार ने किसानों की फसलों की सिंचाई से जुड़ी समस्याओं के समाधान के लिए सोलर सुजाला योजना शुरू की है.

  • Saur Sujala Scheme के तहत किसानों को कम कीमत पर सोलर पंप उपलब्ध कराकर फसलों की सिंचाई से जुड़ी समस्याओं का समाधान किया जाएगा.

  • छत्तीसगढ़ सरकार ने छत्तीसगढ़ सौर सुजाला योजना शुरू की है, ताकि किसानों की फसलों की पैदावार में सुधार के लिए सोलर पंप उपलब्ध कराया जा सके, ताकि किसान अपनी उपज बढ़ा सकें.

  • यह योजना किसानों की फसलों में सुधार और किसानों के उत्थान के लिए शुरू की गई है.

सौर सुजाला योजना के उद्देश्य (Saur Sujala Scheme Objectives)

योजना का प्राथमिक उद्देश्य ऐसे सौर पंपों को पेश करना है, जो पारंपरिक पंपों की तुलना में अधिक शक्तिशाली और कुशल हैं. जिससे रियायती दरों पर किसानों का सिंचाई पंपों पर खर्च का बोझ कम हो. साथ ही इससे किसान की आय में भी वृद्धि होती है.

सोलर पंप के लाभ (Saur Sujala Scheme Benefits)

  • बिजली की आवश्यकता नहीं: सोलर पंप वाटरशेड क्षेत्रों के लिए अत्यधिक फायदेमंद होते हैं जहां बिजली की सुविधा अनुपलब्ध होती है क्योंकि यह गर्मी के लंबे दिनों के दौरान सूरज की रोशनी की चरम किरणों का उपयोग करती है जिसके दौरान पानी की मांग अधिक होगी.

  • टिकाऊ और संचालित करने में आसान: इसकी रखरखाव अवधि 5 वर्ष है और इसमें कम ध्यान देने की आवश्यकता होती है, क्योंकि यह स्वयं शुरू होता है और इसके लिए मैन्युअल शुरुआत की आवश्यकता नहीं होती है. इसके अलावा, यह मौसम के बदलाव के दौरान आसानी से पोर्टेबल भी है.

  • कम खर्च: बिजली व डीजल की लागत बच जाएगी क्योंकि भविष्य में इसकी कीमत अनिश्चित है.

  • पर्यावरण के अनुकूल: डीजल पंपों के विपरीत, यह पर्यावरण को प्रदूषित नहीं करता है.

सौर सुजाला योजना की विशेषताएं (Saur Sujala Scheme Features)

  • छत्तीसगढ़ सौर सुजला योजना के तहत छत्तीसगढ़ में किसानों को सौर ऊर्जा संचालित सिंचाई पंप वितरित किए जाएंगे.

  • किसान अपने उपयोग के अनुसार सौर सिंचाई पंप चुन सकते हैं, जैसे छोटे किसानों के लिए 3HP पंप और बड़े किसानों के लिए 5HP पंप बेहतर होंगे.

  • छत्तीसगढ़ राज्य अक्षय ऊर्जा विकास एजेंसी (CREDA) पात्र किसानों के लिए सौर पंप उपकरण स्थापित करने और बनाए रखने के लिए जिम्मेदार होगी.

  • इस योजना के तहत, सरकार 3HP और 5HP क्षमता के सौर ऊर्जा संचालित सिंचाई पंपों की कुछ रियायती दरों पर 5 लाख और 5 लाख की पेशकश कर रही है.

  • छत्तीसगढ़ सौर सुजाला योजना के तहत किसानों के लिए कोई रियायत राशि की घोषणा नहीं की गई है.

  • सरकार ने इस पहल को प्राथमिकता के आधार पर शुष्क क्षेत्रों और उन क्षेत्रों में शुरू करने की योजना बनाई है जहां बिजली की सुविधा नहीं है.

  • अनुमान है कि इस सौर सिंचाई पंप योजना से लगभग 51,000 किसान लाभान्वित होंगे.

सोलर पंप पर सब्सिडी (Saur Sujala Scheme Subsidy)

इस योजना के तहत उनकी उपयोग क्षमता के आधार पर दो प्रकार के पंप वितरित किए जाते हैं.

3HP पंप: इस प्रकार के पंप का उपयोग छोटे पैमाने पर खेती के लिए किया जाता है. ऐसे पंप रुपये की रियायती दर पर दिए जाते हैं. 3.5 लाख जिसमें सब्सिडी की पेशकश 7000 रुपये से 18,000 रुपये के बीच होगी.

5HP पंप: 5HP पंप आमतौर पर बड़े पैमाने पर खेती में शामिल होते हैं. इन पंपों की आपूर्ति 4.5 लाख रुपये की रियायती दर पर की जाती है, जिसमें सब्सिडी 10,000 रुपये से 20,000 रुपये तक होगी.

पात्रता मापदंड (Saur Sujala Scheme Eligibility)

  • छोटे/मध्यम/बड़े पैमाने के किसान इस योजना के लिए आवेदन करने के पात्र हैं.

  • किसान छत्तीसगढ़ राज्य का निवासी होना चाहिए.

  • पात्र किसानों की पहचान के लिए छत्तीसगढ़ राज्य अक्षय ऊर्जा विकास एजेंसी (क्रेडा) जिम्मेदार होगी. इसके अलावा, यह सौर पंप की स्थापना और रखरखाव के लिए तकनीकी सहायता प्रदान करता है.

आवश्यक दस्तावेज़ (Saur Sujala Scheme Important Documents)

  • आधार कार्ड

  • पहचान प्रमाण

  • आवास प्रामाण पत्र

  • बैंक खाता विवरण

आवेदन प्रक्रिया (Saur Sujala Scheme Registration)

ऑफलाइन रजिस्ट्रेशन: सौर सुजला योजना के लिए आवेदन पत्र राज्य के तालुका/ जिले में स्थित ब्लॉक कार्यालयों और कृषि कार्यालयों में उपलब्ध है. आवेदक को आवेदन शुल्क का भुगतान करते हुए फॉर्म प्राप्त होगा जिसे भरकर उसे जमा करना होगा.

ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन: वहीं जिन लोगों को ऑनलाइन आवेदन करना है, वो www.creda.in पर रजिस्टर कर इसका लाभ ले सकते हैं.

English Summary: In Saur Sujala Scheme you will get solar pump and get a subsidy of Rs 20,000, apply like this Published on: 02 February 2022, 04:57 IST

Like this article?

Hey! I am रुक्मणी चौरसिया. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News