MFOI 2024 Road Show
  1. Home
  2. सरकारी योजनाएं

गांव व शहर की महिलाओं के लिए बड़ी खुशखबरी, अब हर घर में पाइप लाइन पहुंचेगी रसोई गैस

मोदी सरकार गरीबों, किसानों और महिलाओं के हित के लिए आए दिन नई-नई योजनाएं लाती है. इसी कड़ी में सरकार ने महिलाओं को और सशक्त बनाने की दिशा में एक बड़ा फैसला लिया है, जिसका सीधा असर देश की हर महिलाओं पर पड़ेगा.

अनामिका प्रीतम
अनामिका प्रीतम
Govt. Schemes for women
Govt. Schemes for women

केंद्र की मोदी सरकार महिलाओं को और सशक्त बनाने की दिशा में लगातार काम कर रही है. इसी कड़ी में सरकार ने महिलाओं के हित में एक बड़ा फैसला किया है. पहले जहां केंद्र सरकार के सबसे महत्वकांक्षी योजना उज्जवला योजना के तहत हर घर में एलपीजी गैस पहुंचा रही है, तो वही अब सरकार गैस पाइप लाइन का दायरा बढ़ाकर इसे हर घर तक पहुंचाने की तैयारी कर रही है. 

अब हर घर पहुंचेगा गैस पाइप लाइन(Now every house will reach gas pipeline)

अब केंद्र सरकार देश के हर घर में गैस पाइप लाइन लगाने की तैयारी कर रही है. इसकी जानकारी खुद  पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने राज्य सभा में दी है. केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने कहा कि सरकार गैस पाइप लाइन का दायरा बढ़ाने की तैयारी कर रही है. इस योजना की शुरुआत 12 मई से गैस पाइप लाइन बिछाने के लिए बोल का प्रोसेस शुरू कर किया जायेगा.

देश के 98 फीसदी आबादी को मिलेगी सीधे लाभ(98 percent of the country's population will get direct benefits)

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि बोली प्रक्रिया के बाद बेसिक इंफ्रास्ट्रक्टर का खाका तैयार करने पर काम किया जाएगा, जिसमें एक तय समय सीमा लगेगा. उन्होंने इस योजना के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि जब गैस पाइप लाइन का विस्तार हो जाएगा. तब देश के 82 प्रतिशत से अधिक भूमि क्षेत्र और 98 प्रतिशत आबादी को पाइप लाइन के जरिये रसोई गैस सप्लाई की जायेगी.

ये भी पढ़ें:LPG कनेक्शन को लेकर सरकार बदल रही है ये नियम, पढ़िए पूरी खबर

गैस पाइप लाइन का विस्तार इन इलाकों में नहीं (Expansion of gas pipeline is not in these areas)

इस दौरान पहाड़ी इलाकों के बारे में बात करते हुए मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने बताया कि देश के पूर्वी इलाके और जम्मू कश्मीर के कुछ दुर्गम इलाकों में गैस पाइप लाइन नहीं पहुंच पाएगा.

एक हजार लिक्विफाइड नेचुरल गैस स्टेशन बनाने की तैयारी(Preparation to build one thousand liquefied natural gas stations)

केंद्रीय मंत्री ने सदन में बताया कि कोरोना महामारी के दौरान उज्ज्वला योजना के तहत लाभार्थियों को मुफ्त में एलपीजी सिलेंडर दिये गए थे. हरदीप सिंह पुरी के मुताबिक, आज एलपीजी गैस सिलेंडरों की संख्या 30 करोड़ से ज्यादा हो गई है, जबकि इसकी संख्या साल 2014  में बस 14 करोड़ थी. केंद्रीय मंत्री ने कहा कि हमारी कोशिश रहेगी की देश की पूरी आबादी को तक गैस पाइप लाइन पहुंचाई जायें, जिसके लिए तेजी से काम चल रहा है.

इसके तहत एक हजार से अधिक  लिक्विफाइड नेचुरल गैस (Liquefied natural gas) स्टेशन भी बनाये जायेंगे. आपकी जानकारी के लिए बता दें कि एलपीजी सिलेंडर के मुकाबले पाइप के जरिए मिलने वाली रसोई गैस ज्यादा सस्ती होती है और ज्यादा बेहतर भी.

English Summary: Great news for the women of the village and the city, now the pipeline will reach every house Published on: 30 March 2022, 03:18 IST

Like this article?

Hey! I am अनामिका प्रीतम . Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News