बड़ी खबर ! लॉकडउन में सरकार दे रही 1 हजार रुपए की सहायता, बस इनस्टॉल करें ये ऐप

कोरोना संक्रमण के कहर को देखते हुए बिहार सरकार ने बड़ा कदम उठाया है. बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने ग्रामीण-शहरी तबको के मजदूरों एवं प्रवासी लोगों को सहायता देने की घोषणा की है. फैसले के तहत राज्य से बाहर रह रहे बिहार के लोगों के खातों में सरकार एक हजार रुपए डालेगी. माना जा रहा है कि बिहार सरकार का ये फैसला अपने आप में अनोखा है, क्योंकि अभी तक किसी भी सरकार ने इस तरह का फैसला नहीं लिया है.

मुख्यमंत्री राहत कोष से मिलेगा पैसा

गौरतलब है कि बिहार के प्रवासी लोगों को फैसला मुख्यमंत्री राहत कोष के सहारे मदद दी जाएगी. लोगों को इस राशि को पाने के लिए मात्र aapda.bih.nic.in से मोबाइल एप को डाउनलोड करना है. इस बारे में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने एक ट्वीट में लिखा, “लॉकडाउन के कारण बिहार के जो लोग अन्य राज्यों में फंसे हैं, सरकार उन्हें मदद देने जा रही है. लोगों की परेशानियों को समझते हुए मुख्यमंत्री राहत कोष एवं आपदा प्रबंधन विभाग के माध्यम से उनकी मदद की जा रही है. इसके लिए 1000 रुपये मुख्यमंत्री विशेष सहायता के रूप में देने का निर्देश दिया गया है.”

सामान्य नियम
इस योजना का लाभ लेने के लिए बिहार का राज्य का निवासी होना जरूरी है. ध्यान रहे कि योजना का लाभ केवल उन्ही लोगों को मिलेगा जो कोरोना वायरस के चलते बाहरी राज्यों में फसें हुए हैं. इसका लाभ लेने के लिए लाभार्थी के पास आधार कार्ड की प्रति होना जरूरी है. लाभार्थी के नाम से एक बैंक खाता बिहार राज्य में होना जरूरी है.

अन्य निर्देश-
लाभार्थी को एक फोटो (सेल्फी) देना होगा, जिसका मिलान आधार डेटाबेस की फोटो से किया जाएगा. इसलिए आधार कार्ड की फोटो साफ होनी चाहिए. एक आधार कार्ड पर एक ही रजिस्ट्रशन मान्य होगा. ओo टीo पीo  केवल आधार कार्ड वाले रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर ही आएगा, इसलिए ऍप उसी नंबर से चलाएं.

English Summary: government of bihar providning help of one thousand ruppes to people

Like this article?

Hey! I am सिप्पू कुमार. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News