लड़कियों के लिए अच्छी खबर, 12वीं पास करने पर 25 हजार और ग्रेजुएट पर 50 हजार देगी राज्य सरकार

सिप्पू कुमार
सिप्पू कुमार

बिहार की नीतीश सरकार ने एक बार फिर महिला सशक्तिकरण को बढ़ावा देते हुए लड़कियों को आगे बढ़ाने का फैसला किया है. दरअसल राज्य सरकार कैबिनेट ने छात्राओं को पढ़ाई के लिए वित्तीय सहायता प्रदान करने का फैसला किया है. इस बारे में प्रस्ताव को मंजूरी मिल गई है, जिसके अनुसार इंटर पास करने वाली अविवाहित लड़कियों को 25000 और स्नातक पास करने वाली अविवाहित लड़कियों को 50000 रुपये देने का फैसला हुआ है.

मुख्यमंत्री कन्या उत्थान योजना के तहत मिलेगा पैसा

बिहार सरकार यह राशि मुख्यमंत्री कन्या उत्थान योजना के अंतर्गत लड़कियों को प्रदान करेगी. योजना का लाभ उन लड़कियों को मिलेगा जिनका रिजल्ट एक अप्रैल, 2021 के बाद आएगा. बता दें कि इससे पहले सरकार लड़कियों को 12वीं पास करने पर 10 हजार रुपए और ग्रेजुएशन करने पर 25,000 रुपए देती थी.

अल्पसंख्यक छात्र-छात्राओं को भी लाभ

बता दें कि कैबिनेट बैठक में मुख्यमंत्री विद्यार्थी प्रोत्साहन योजना के तहत 33,666 अल्पसंख्यक छात्र-छात्राओं को भी प्रोत्साहित करने का फैसला हुआ है. इसके लिए बिहार आकस्मिकता निधि योजना से सरकार 34 करोड़ रूपए खर्च करेगी. इस योजना के तहत फर्स्ट डिवीजन पास मैट्रिक के छात्र-छात्राओं को दस हजार रूपए तथा इंटरमीडिएट पास छात्र-छात्राओं को 15 हजार रुपए दिए जाएंगें.

जीतन राम मांझी ने किया स्वागत

इस फैसला का जीतन राम मांझी ने भी स्वागत करते हुए कहा है कि कैबिनेट के फैसलों पर उन्हें खुशी है. जीतनराम मांझी ने कहा कि नीतीश सरकार ने अपना घोषणा पत्र का वादा निभाते हुए आखिरकार इंटर पास करने वाली अविवाहित कन्याओं को 25000 एवं स्नातक डिग्री लेने वाली कन्याओं को 50000 रुपए देना की स्वीकृति दे दी है, जिसका वो स्वागत करते हैं.

बता दें कि बिहार सरकार महिलाओं को आगे बढ़ाने एवं उन्हें आर्थिक और सामाजिक समानता देने के लिए कई तरह की योजनाएं चला रही है. मुख्यमंत्री कन्या उत्थान योजना भी उसी का एक हिस्सा है, जिसमें लड़कियों को आगे की शिक्षा के लिए पैसे दिए जाते हैं.

English Summary: government of bihar provide 25 thousand to 12th pass and 50 thousand money to graduation girls

Like this article?

Hey! I am सिप्पू कुमार. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News