Loan Scheme: किसान जल्द उठाएं 44 प्रतिशत सब्सिडी पर 20 लाख रुपए का लोन, जानें आवेदन का तरीका

कंचन मौर्य
कंचन मौर्य
loan

किसानों की आमदनी को लेकर मोदी सरकार लगातार प्रयास कर रही है. सरकार का लक्ष्य है कि साल 2022 तक किसानों की आमदनी को दोगुना किया जा सके. इससे पहले सरकार ने कृषि से जुड़े कई कानूनों में भी बदलाव किया है. इसके बाद देश में कृषि आधारित कारोबार आसान हो गया है. अगर आप भी इसका लाभ उठाना चाहते हैं, तो वह सरकार से 20 लाख रुपए तक का लोन ले सकता है और इसके जरिए अपना काम शुरू कर सकता है. बता दें कि जो कारोबारी अपना बिजनेस करना चाहते हैं, सरकार उनकी जमकर मदद करती है.

क्या है लोन स्कीम

इस लोन पर सरकार 36 से 44 प्रतिशत तक की सब्सिडी दे रही है. ऐसे में अगर आप अपना कारोबार शुरू करना चाहते हैं, तो इस लोन का लाभ उठा सकते हैं. यह लोग काफी आसानी से मिल रहा है, साथ ही इस लोन पर कई सब्सिडी भी दी जा रही है. अगर आप भी यह लोन लेने के लिए इच्छुक हैं, तो यहां पर पूरी जानकारी ले सकते हैं. आइए आपको इस स्कीम की पूरी जानकारी देते हैं.

लोन स्कीम की खासियत

  • एग्रीकल्चर बिजनेस को बढ़ावा देने का प्रयास किया जा रहा है.

  • अगर आप कृषि से जुड़ा कोई कारोबार शुरू करना चाहते हैं, तो यह स्कीम आपके बहुत काम आएगी.

  • इसके तहत सरकार आपको 20 लाख रुपए तक का लोन देगी.

  • यह पैसा एग्री क्लिनिक और एग्री बिजनेस सेंटर स्कीम के माध्यम से दिया जाएगा.

  • इस योजना से जुड़ने वालों को 45 दिनों की ट्रेनिंग भी दी जाएगी.

  • इसके बाद अगर आप योग्य पाए गए, तो नाबार्ड के जरिए लोन मिल जाएगा.

Agriculture

लोन स्कीम का उद्देश्य

  • मोदी सरकार किसानों की आमदनी दोगुना करना चाहती है.

  • इसके जरिए कृषि उत्पादों की मांग बढ़ेगी.

  • जिन युवाओं ने एग्रीकल्चर से संबंधित पढ़ाई कर रखी है और वह कारोबार करना चाहते गैं, तो ऐसे में यह लोन स्कीम कारोबार शुरू करने में मदद करेगी.

  • इस लोन चुकता करने की अवधि को 15 साल निर्धारित किया गया है.

लोन के लिए आवदेन का तरीका

इस स्कीम का लाभ उठाने के लिए आपको ट्रेनिंग के लिए अपने नजदीक का कॉलेज चुनना होगा. बता दें कि इन ट्रेनिंग सेंटरों को भारत सरकार के कृषि मंत्रालय के एक संगठन, राष्ट्रीय कृषि विस्तार प्रबंधन संस्थान हैदराबाद से जोड़ा गया है. यह संस्थान कृषि मंत्रालय के तहत काम करते हैं. जैसे ही, आपकी ट्रेनिंग पूरी होगी, वैसे ही कृषि से संबंधित व्यवसाय शुरू करने के लिए नाबार्ड से लोन देने की प्रक्रिया शुरू कर देगा.

ऐसे मिलती है सब्सिडी

जहां तक सब्सिडी की बात है, तो सामान्य श्रेणी के आवेदकों को 36 प्रतिशत सब्सिडी दी जाती है. इसके अलावा अनुसूचित जाति,  जनजाति और महिला आवेदकों को 44 प्रतिशत तक की सब्सिडी मिलती है.

महत्वपूर्ण बात

इस लोन स्कीम के बारे में ज्यादा जानकारी के लिए आप टोल फ्री नंबर- 1800-425-1556 और -9951851556 पर संपर्क कर सकते हैं.

Like this article?

Hey! I am कंचन मौर्य. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News