MFOI 2024 Road Show
  1. Home
  2. सरकारी योजनाएं

Jeevan Jyoti Bima Yojana में सिर्फ 330 रुपए से मिलेगा लाखों का बीमा, रहेंगे जीवन भर टेंशन फ्री

2015 में शुरू की गई पीएम जीवन ज्योति बीमा योजना एक साल की जीवन बीमा योजना है, जो साल-दर-साल रिन्यूएबल है और मृत्यु के लिए कवरेज प्रदान करती है. यह योजना सार्वजनिक और निजी दोनों क्षेत्र की बीमा कंपनियों के माध्यम से अनुसूचित वाणिज्यिक बैंकों, क्षेत्रीय ग्रामीण बैंकों और सहकारी बैंकों के साथ गठजोड़ करके प्रशासित है.

रुक्मणी चौरसिया
रुक्मणी चौरसिया
PM Jeevan Jyoti  Bima Yojana
PM Jeevan Jyoti Bima Yojana

ग्रामीण लोगों और किसानों की उपलब्धि के लिए जोरो-शोरो से काम चल रहा है. दरअसल, सरकार ने जीवन बीमा (Life Insurance Government Scheme) क्षेत्र पर बहुत जोर दिया है, क्योंकि पहले आबादी के एक बड़े हिस्से के पास बीमा कवरेज तक पहुंच नहीं थी. इसी वज़ह से समाज के गरीब और वंचित वर्ग को शामिल करने के लक्ष्य के साथ पीएम जीवन ज्योति बीमा योजना शुरू की गयी है. इसका लक्ष्य 'सबके साथ सब का विकास' की दृष्टि के साथ सभी को बढ़ावा देना है.

क्या है पीएम जीवन ज्योति बीमा योजना (What is Pradhan Mantri Jeevan Jyoti Bima Yojana)

2015 में शुरू की गई पीएम जीवन ज्योति बीमा योजना (PM Jeevan Jyoti Bima Yojana) एक साल की जीवन बीमा योजना है, जो साल-दर-साल रिन्यूएबल है और मृत्यु के लिए कवरेज प्रदान करती है. यह योजना सार्वजनिक और निजी दोनों क्षेत्र की बीमा कंपनियों के माध्यम से अनुसूचित वाणिज्यिक बैंकों, क्षेत्रीय ग्रामीण बैंकों और सहकारी बैंकों के साथ गठजोड़ करके प्रशासित है.

PMJJBY की विशेषताएं (Features of PMJJBY)

  • यह एक वर्ष के लिए जीवन बीमा प्रदान करता है और पॉलिसी को हर साल नवीनीकृत किया जा सकता है.

  • हर साल पीएम जीवन ज्योति बीमा योजना (PM Jeevan Jyoti Bima Scheme) INR 330 के मामूली प्रीमियम शुल्क पर INR 2 लाख का जीवन बीमा कवरेज प्रदान करता है.

  • चूंकि यह एक शुद्ध टर्म बीमा योजना है, इसलिए पॉलिसी परिपक्वता लाभ प्रदान नहीं करती है और केवल जीवन जोखिम को कवर करती है.

  • कवरेज नामांकन की तारीख के 45 दिन बाद शुरू होता है. हालांकि, दुर्घटना के कारण मृत्यु के मामले में बीमा राशि का भुगतान किया जाएगा.

  • भारत में एलआईसी और अन्य निजी बीमा कंपनियों के साथ गठजोड़ वाले किसी भी भागीदार बैंक में पॉलिसी खरीदी जा सकती है.

  • PMJJBY का लाभ उठाने के लिए पॉलिसीधारक के पास एक बचत बैंक खाता होना चाहिए.

  • कोई भी व्यक्ति किसी भी कारण से योजना से बाहर निकलने के बाद भी आसानी से फिर से जुड़ सकता है.

कौन है PMJJBY का पात्र (Who is eligible for PMJJBY)

  • 18-50 वर्ष के आयु वर्ग के व्यक्ति जिनके पास बैंक खाता है, वे इस योजना का लाभ पाने के हकदार हैं.

  • 50 वर्ष की आयु पूरी करने से पहले योजना में शामिल होने वाले लोगों को प्रीमियम के भुगतान के अधीन 55 वर्ष की आयु तक जीवन बीमा का जोखिम बना रहता है.

पीएम जीवन ज्योति योजना के लाभ (Benefits of PM Jeevan Jyoti Yojana)

  • मृत्यु लाभ: किसी भी अन्य टर्म इंश्योरेंस प्लान की तरह, प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना पॉलिसीधारक की मृत्यु पर INR 2 लाख तक का मृत्यु लाभ प्रदान करती है.

  • जोखिम कवरेज: प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना योजना सभी जीवन जोखिमों को कवर करती है. यह पॉलिसी के लाभार्थियों को मृत्यु लाभ प्रदान करता है यदि पॉलिसीधारक की किसी भी कारण से मृत्यु हो जाती है. यह राशि मृत्यु के 45 दिन बाद दी जाएगी. यदि पॉलिसीधारक की मृत्यु दुर्घटना के कारण होती है, तो कोई प्रतीक्षा अवधि नहीं होती है और लाभार्थियों को मृत्यु लाभ तुरंत प्रदान किया जाता है.

  • कर लाभ: प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना में किए गए निवेश पर आयकर अधिनियम, 1961 की धारा 80सी के तहत कर कटौती का दावा किया जा सकता है.

कैसे करें PMJJBY में आवेदन (How to apply in PMJJBY)

  • पीएम जीवन ज्योति योजना के लाभ (Jeevan Jyoti Bima Yojana) का लाभ लेने के लिए आप ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं.

  • ऑनलाइन आवेदन के लिए आपको इसकी आधिकारिक वेबसाइट jansuraksha.gov.in पर क्लिक कर रजिस्ट्रेशन करना होगा.

  • अपने बैंक में विधिवत भरा हुआ फॉर्म जमा करें.

  • आवश्यक दस्तावेज जमा करें और सबमिट करें.

English Summary: Get tension free for life by applying in PM Jeevan Jyoti Yojana Published on: 19 January 2022, 02:08 IST

Like this article?

Hey! I am रुक्मणी चौरसिया. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News