MFOI 2024 Road Show
  1. Home
  2. सरकारी योजनाएं

सौर्य उर्जा समरसेबिल पंप लगवाने के लिए 75% अनुदान, आज से करें आवेदन

कहते हैं जल ही जीवन है और ये कहावत बिल्कुल सही है. हम सभी के जीवन में पानी की बहुत अहमियत है. यहाँ तक कि रोटी, चावल मुहैया कराने वाली खेती भी पानी पर टिकी होती है. ऐसे में फसल के उत्पादन के लिए खेत की बेहतर सिंचाई करना बहुत जरूरी होता है और बेहतर सिंचाई के लिए पानी की ज्यादा जरूरत पड़ती है. अगर फसलों में पानी की कमी रहे, तो फसल खेतों में ही खराब हो जाती हैं.

स्वाति राव
स्वाति राव
Solar Samarsemible
Solar Samarsemible

कहते हैं जल ही जीवन है और ये कहावत बिल्कुल सही है. हम सभी के जीवन में पानी की बहुत अहमियत है. यहाँ तक कि रोटी, चावल मुहैया कराने वाली खेती भी पानी पर टिकी होती है. ऐसे में फसल के उत्पादन के लिए खेत की बेहतर सिंचाई करना बहुत जरूरी होता है और बेहतर सिंचाई के लिए पानी की ज्यादा जरूरत पड़ती है. अगर फसलों में पानी की कमी रहे, तो फसल खेतों में ही खराब हो जाती हैं.

इस कड़ी में हरियाणा सरकार ने पहले आओ पहले पाओ योजना के तहत किसानों को सोलर कनेक्शन के लिए आवेदन शुरू कर दी है. अगर आप भी इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं, तो जल्द ही आवेदन करें. बता दें कि नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा विभाग के माध्यम से प्रदेश स्तर पर 8600 सोलर पंप लगाने का लक्ष्य रखा गया है. इस योजना के माध्यम से राज्य सरकार सौर्य उर्जा समर सेबिल लगवाने के लिए 75 फीसदी अनुदान दे रही है. यह योजना 27 दिसम्बर से शुरू हो गयी है.

समरसेबिल के कितनी राशि जमा करनी होगी (How Much Amount Has To Be Deposited Towards Somersebill)

समर्सेबिल के लिए जो भी किसान आवेदन कर रहे हैं, उनको जितने हॉर्स पावर का सोलर कनेक्शन चाहिए है, उसका आवेदन करने बाद कुल राशि से अनुदान काटने के बाद बची देय राशि ही जमा करवानी होगी.

सूक्ष्म सिंचाई करने वाले किसानों को मिलेगा कनेक्शन (Farmers Doing Micro Irrigation Will Get Connection)

सोलर कनेक्शन केवल उन्हीं किसानों को दिए जाएंगे, जो किसान सूक्ष्म सिंचाई, टपका सिंचाई, फव्वारा सिंचाई योजना के तहत सिंचाई करते हैं. जो भी किसान सोलर सिस्टम लगवाना चाहते हैं, वह इसमें आवेदन कर सुविधा प्राप्त कर सकते हैं.

किसानों के लिए फायदेमंद (Beneficial To Farmers)

इस योजना के माध्यम से मिल रही समर्सेबिल कनेक्शन की सुविधा किसानों के लिए बहुत लाभदायी साबित होगी. जिन क्षेत्रों में पानी का लेवल ऊपर है और डीजल इंजन के माध्यम से किसान सिंचाई के लिए पानी निकालते हैं. उन्हें सोलर पंप लगवाने से डीजल इंजन छुटकारा मिलेगा. इससे छोटे किसानों को काफी फायदा होगा और बिजली पर निर्भर नहीं रहना पड़ेगा. कनेक्शन के लिए आवेदन करने वाले किसानों के लिए शर्त यह है कि बिजली कनेक्शन के लिए अप्लाई या लगा नहीं होना चाहिए.

कैसे करें आवेदन (How To Apply)

जो भी किसान सोलर पंप कनेक्शन लेने के इच्छुक हैं, उनको आवेदन ऑनलाइन माध्यम से करना होगा. इसका आवेदन सरल केंद्र या कॉमन सर्विस सेंटर से कर सकते हैं. इसके बाद जितने हॉर्स पावर की जितनी राशि बनती है, उसका चालान जनरेट होगा. इस चालान का आईडीबीआई बैंक में भुगतान करना होगा. इसके बाद चालान की रसीद सीएससी पर जाकर अपलोड करवानी होगी.

जरुरी दस्तावेज (Required Documents)

  • परिवार पहचान पत्र मोबाइल से लिंक होना.

  • बैंक खाता परिवार पहचान पत्र से लिंक

  • कृषि भूमि की जमाबंदी / फर्द -एक्स सिजरा

  • एक्स सिजरा (जहां सोलर पंप लगाना है, उस जमीन का नक्शा)

  • खेत में सूक्ष्म सिंचाई प्रणाली का शपथ पत्र (ऑनलाइन आवेदन के समय निकलेगा)

कितने पंप हॉर्स पावर कितनी राशि जमा करनी होगी (Know How Much Pump Horsepower How Much Amount Will Have To Be Deposited)

  • 3 एचपी मोनोब्लॉक (डीसी), 45075, 66477

  • 5 एचपी मोनोब्लॉक (डीसी), 64581, 80099

  • 5 एचपी मोनोब्लॉक (डीसी),91894, 127600

  • 10 एचपी मोनो ब्लॉक (डीसी),115507, 170218

  • 3 एचपी (डीसी) 46658, 68634

  • 3एचपी (एसी) 45378,65718

  • 5 एचपी (डीसी) 64724, 86760

  • 5 एचपी (एसी) 64581, 84740

  • 5 एचपी (डीसी) 92007 138433

  • 5 एचपी (एसी), 92462,127372

  • 10 एचपी (एसी) 113515, 176875

  • 10 एचपी (डीसी) 113515, 176329

English Summary: applications will start for solar energy submersible pump, know how to apply Published on: 27 December 2021, 03:14 IST

Like this article?

Hey! I am स्वाति राव. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News