1. खेती-बाड़ी

गेहूं, मेथी, पालक और गोभी के बीज कृषि प्रौद्योगिकी सूचना केंद्र पर किसानों के लिए उपलब्ध

मनीशा शर्मा
मनीशा शर्मा

Agriculture

राष्ट्रीय कृषि अनुसंधान प्रणाली (National Agricultural Research System) ने भारत में किसानों के लाभ के लिए कई कृषि तकनीकों( Agricultural Techniques) की शुरुआत की है. लेकिन, किसानों तक इसकी पहुंच न होने के कारण किसान इन तकनीकों का उपयोग नहीं कर पा रहे है. सूचना के इस अंतर को कम करने के लिए, सरकार ने देश में कृषि प्रौद्योगिकी सूचना केंद्र ( Agricultural Technology Information Center ) की स्थापना की थी.

नई दिल्ली में IARI का ATIC वर्ष 1999 में किसानों को लाभ पहुंचाने के लिए संस्थान की प्रौद्योगिकी, सेवाओं और उत्पादों के लिए 'एकल खिड़की' वितरण प्रणाली के रूप में स्थापित किया गया था. कृषि प्रौद्योगिकी सूचना केंद्र (Agricultural Technology Information Center )  कृषि सलाहकार सेवाएं प्रदान करता है और खेती करने वालों के बीच सूचना आधारित निर्णय लेने की सुविधा भी देता है.

ICAR-IARI के कृषि प्रौद्योगिकी सूचना केंद्र (ATIC) में 18 नवंबर 2019  से किसानों को बिक्री के लिए निम्नलिखित बीज उपलब्ध हैं.

क्रमश

फसल

किस्में

वजन प्रति पैकेट

दर प्रति पैकेट

1.

गेहूं (Wheat)

HD 3043

10 किग्रा

400 रूपय

2.

मेथी (Fenugreek)

PEB

66 ग्राम

 20 रूपय

3.

पत्ता-गोभी(Cabbage)

Golden acre

10.0 ग्राम

 15 रूपय

4.

पालक (Spinach)

P. All Green

80.0 ग्राम

. 20 रूपय

जो किसान इन बीजों को खरीदने के इच्छुक हैं या उनके बारे में अधिक जानना चाहते हैं तो वे नीचे दिए गए पते पर संपर्क कर सकते हैं:

प्रभारी,

कृषि प्रौद्योगिकी सूचना केंद्र (एटीआईसी),

ICAR -IARI नई दिल्ली -110012

ईमेल: incharge_atic@iari.res.in

011-25841670, 011- 25841039, 011-25846233, 011-25803600 (पूसा हेल्प लाइन)

1800-11-8989, (पूसा एग्रिकॉम: टोल फ्री हेल्पलाइन)

English Summary: Wheat, fenugreek and cabbage seeds obtainable to farmers at the Agricultural Technology Information Center

Like this article?

Hey! I am मनीशा शर्मा. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News