MFOI 2024 Road Show
  1. Home
  2. खेती-बाड़ी

October me Sabji ki Kheti: अक्टूबर में इन सब्जियों की करें खेती, होगी बंपर कमाई

मंडियों में सालभर हरी सब्जियों की मांग बनी रहती है. यही वजह है कि देश के बहुत सारे किसान परंपरागत खेती को छोड़कर सब्जियों की खेती कर भारी मुनाफा कमा रहे हैं. अगर आप एक किसान हैं और सब्जियों की खेती करने के बारे में सोच रहे हैं तो अक्टूबर माह में ब्रोकोली, मटर, प्याज, फूलगोभी और पालक की खेती कर शानदार मुनाफा कम सकते हैं.

रवींद्र यादव
Vegetables farming in october month
Vegetables farming in october month

सब्जियों की मांग मौसम के अनुसार बदलती रहती है. ऐसे में अगर आप सब्जियों की खेती कर बढ़िया लाभ कमाना चाहते हैं तो इसके लिए आपको मौसम के अनुसार बाजार में सब्जियों की मांग  को समझना होगा. कृषि विशेषज्ञों के अनुसार, अक्टूबर महीने में बोई गई सब्जियों की मांग अगले एक से दो महीने में काफी ज्यादा रहती है और किसानों को बढ़िया रेट मिल जाता है. किसान भाइयों को बता दें कि इस समय आप ब्रोकोली, मटर, प्याज, फूलगोभी, और पालक की खेती कर बाजार से अच्छा फायदा कमा सकते हैं. ऐसे में आइए इन सब्जियों की खेती का तरीका समझते हैं-

अक्टूबर माह में सब्जियों की खेती

प्याज की खेती (Onion farming)

प्याज की खेती लाल दोमट व काली मिट्टी में सबसे बढ़िया होती है. इन मिट्टियों में अच्छी तरह से जल निकासी की सुविधा होती है. मिट्टी में अधिक अम्लीय और क्षारीय पन प्याज की खेती पर असर डालता है. आपको प्याज लगाने से पूर्व मिट्टी की जांच अपने नजदीकी कृषि विज्ञान केंद्र जाकर करान लेना चाहिए.

ब्रोकली की खेती (Broccoli cultivation)

भारत में ब्रोकली की खेती ज्यादातर सितंबर के महीने में की जाती है. सर्दियों में इसकी मांग काफी ज्यादा रहती है. ऐसे में अगर किसान भाई ब्रोकली की खेती अपनाते हैं तो यह आपके लिए एक बेहतरीन फायदे का सौदा हो सकता है. इसकी खेती के लिए 5 से 6 घंटे रोशनी की जरुरत होती है और यह अगले महीने के अंत तक पूरी तरह से तैयार हो जाती है.

फूलगोभी की खेती ( Cauliflower farming)

फूलगोभी की खेती भी सितंबर और अक्टूबर महीने में बड़े स्तर पर की जाती है. इसके लिए अच्छी जल निकास वाली दोमट या बलुई मिट्टी की जरुरत होती है. इसकी खेती के लिए खेत को अच्छी तरह से तैयार करने के लिए 3 से 4 बार जुताई कर पाटा मारकर समतल कर देना चाहिए.

मटर की खेती (Pea Farming)

आजकल फ्रोजन मटर की मांग बाजार में काफी ज्यादा है. यह एक से दो महीने में तैयार हो जाती है और सर्दियों में इसकी मांग होने से आप बेहतर कमाई कर सकते हैं. मटर की खेती के लिए खेत में नमी की जरुरत होती ह और बारिश वाले स्थानों पर इसकी खेती की बिल्कुल ही ना करें क्योंंकि बारिश होने से मिट्टी सख्त हो जाती है और इस पर पौधे उगने की संभावना बिल्कुल ही खत्म हो जाती है.

ये भी पढ़ें: इलायची की खेती से किसान कमा सकते हैं भारी मुनाफा, बस अपनाएं ये टिप्स

पालक की खेती  (Spinach farming)

पत्तेदार सब्जी पालक की औषधीय गुण के कारण इसकी मांग बहुत ज्यादा होती है. पालक को एक बार लगाने के बाद इसकी कटाई कई बार की जा सकती है और इसको तैयार होने में भी काफी कम समय लगता है. इसकी खेती के लिए हल्के सर्द के मौसम की जरुरत होती है. किसान इसके बेहतर उत्पादन के लिए ऑलग्रीन, पूसा, पूसा हरित और पूसा ज्योति जैसी पालक के किस्मों की खेती कर सकते हैं.

English Summary: vegetables farming in october month and its benefits Published on: 25 September 2023, 11:52 AM IST

Like this article?

Hey! I am रवींद्र यादव. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News