1. खेती-बाड़ी

Tulsi Farming: मालामाल कर देगी तुलसी की खेती

पिया कलवानी
पिया कलवानी

घर में सबसे पवित्र पौधे के रूप में पूजी जाने वाली तुलसी न केवल हमारे घर की माता होती है बल्कि हमारे धन की भी दाता होती है. इस औषधीय पौधे की खासियत यह है कि इसके जितने स्वस्थ्य और घरेलू फायदे हैं उससे कई ज्यादा तुलसी की खेती के फायदे हैं. सर्दी जुखाम हो या फिर इम्यूनिटी बढ़ाने की बात है तुलसी का नाम हमेशा ऊपर रहता है. आयुर्वेद में भी तुलसी के पौधे का काफी महत्व होता है. बड़ी-बड़ी कंपनियां तुलसी से बने प्रोडक्ट्स को बाजार में लेकर आ रही हैं क्योंकि आज के दौर में हर कोई अपनी सेहत के प्रति जागरूक होता जा रहा है और तुलसी कई मायनों में फायदेमंद साबित हुई है.

तुलसी की इस बढ़ती मांग को देखकर कई समझदार लोगों ने तुलसी की खेती का निर्णय लिया और आज वह एक बेहतर कमाई कर रहे हैं. आप तुलसी की खेती कर न केवल स्वास्थ्य समस्याओं से मुक्ति पा सकते हैं बल्कि शानदार मुनाफे को अपनी तरफ आकर्षित कर सकते हैं.

कहां होती है सबसे ज्यादा तुलसी की खेती ? (Where the production of Tulsi does takes place the most)

हमारे देश भारत में तुलसी की खेती बहुत सारी जगहों पर की जाती है. मुख्य तौर पर तुलसी की खेती मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश और बिहार जैसे क्षेत्रों में सबसे अधिक की जाती है. लेकिन सामान्य तौर पर पूरे देश में ही तुलसी की अच्छी खासी उपज है और इसे कहीं भी आसानी से उगा सकता है.

तुलसी की उन्नत खेती के लिए कैसी जलवायु और मिट्टी/भूमि की आवश्यकता होती है? (Best climate and soil for Tulsi farming)

तुलसी की खेती के लिए कम उपजाऊ भूमि भी चल जाती है जिसमें पानी की निकासी का प्रबंध उत्तम हो. बलुई दोमट जमीन को चुनना एक सही विकल्प रहता है. वैसे तुलसी की खेती के लिए कई प्रकार की मिट्टी उपयोग में ली जा सकती है. तुलसी की अच्छी पैदावार के लिए नमकीन और क्षारीय मिट्टी का प्रयोग ना करें.

तुलसी की खेती से कितनी उपज होती है? ? (How much profit you can earn by the production of Tulsi)

अगर आपको तुलसी की खेती एक बीघा जमीन पर करनी है तो इसके लिए 1 किलो बीज की जरूरत पड़ती है जिसे आप लगभग ₹3000 (3 हजार रुपए) में खरीद सकते हैं. तुलसी की खेती से आप एक सीजन में 8 क्विंटल तक की उपज की उम्मीद कर सकते हैं जिसका मार्केट में ₹300,000 का दाम मिलता है. तुलसी के बीज बेचने के लिए प्रति क्विंटल आपको ₹40,000 तक मिल जाते हैं. आप एक हैक्टेयर में 25 टन फसल की प्राप्ति कर सकते हैं और साथ ही 100 किलो की उम्मीद आराम से की जा सकती है. अगर आपकी प्रति हेक्टेयर लागत 10,000 है तो मुनाफे के तौर पर आपकी इससे तिगुना कमाई आसानी से हो सकती है।

तुलसी की खेती से हमारे शरीर को क्या-क्या फायदे होते हैं? (Health Benefits of Tulsi in Hindi)

  • तुलसी एक इम्यूनिटी बूस्टर है क्योंकि इसके अंदर खूब सारे एंटीऑक्सीडेंट्स मौजूद हैं. तुलसी के अर्क की बूंदे आप रोजाना पानी में डालकर पीते हैं तो इससे आपकी इम्यूनिटी को काफी मजबूती मिलती है.

  • तुलसी एंटीफ्लू होने की वजह से हर प्रकार के वायरस, बैक्टीरिया और संक्रमण से बचाने में कारगर है. इसीलिए इसका इस्तेमाल बुखार, जुखाम, फ्लू, सर्दी, खांसी, डेंगू, जुखाम, मलेरिया आदि समस्याओं से छुटकारा पाने के लिए किया जाता है.

  • हमारे शरीर से टॉक्सिक यानी हानिकारक तत्वों को बाहर निकालने के लिए तुलसी एंटीबायोटिक का काम करता है.

  • तुलसी में मौजूद एंटी इन्फ्लेमेटरी तत्वों से हमारे शरीर में रेड ब्लड सेल्स की उत्पत्ति बढ़ जाती है.

  • प्रेग्नेंसी के दौरान उल्टी जैसा महसूस होने पर या उल्टी आने पर तुलसी का उपयोग करना असरदार साबित होता है.

  • तुलसी और शहद का कॉन्बिनेशन काफी साल पहले से मशहूर है जिससे कि गले में दर्द, सर्दी जुखाम, और कफ आदि से छुटकारा थोड़े ही समय में मिल जाता है.

  • जिन लोगों के मसूड़ों में से खून निकलता है और दांत में दर्द रहता है उनके लिए तुलसी काफी फायदेमंद है जिससे मुंह से आने वाली दुर्गंध को भी हटाया जा सकता है.

तो क्यों ना आप भी औषधिय गुणों से भरपूर तुलसी की खेती कर खूब सारा मुनाफा कमाए ?

English Summary: Tulsi Farming: Tulsi farming will be beneficial

Like this article?

Hey! I am पिया कलवानी. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News