1. खेती-बाड़ी

DAP और Urea खाद को इस्तेमाल करने का नया तरीका, खेतों में लहराने लगेगी फसल

कृषि जागरण के इस लेख में किसान भाईयों के लिए DAP और Urea खाद का सही तरीके से इस्तेमाल करने की जानकारी दी जा रही है, ताकि आपको फसलों की अधिक पैदावार प्राप्त हो.

कंचन मौर्य
DAP और Urea खाद को इस्तेमाल करने का नया तरीका
DAP और Urea खाद को इस्तेमाल करने का नया तरीका

अगर किसान भाईयों को फसलों में खाद डालने का जाने सही तरीका आता हो, तो इससे खेतों में फसल लहराने लगती हैं और किसानों को आमदनी भी अधिक होती है. वैसे फसलों के लिए खाद का उपयोग उतना ही जरूरी होता है जितना कि इंसानों के लिए भोजन जरूरी होता है.

मगर अक्सर जानकारी के अभाव में किसान भाई फसल की अधिक उपज लेने के लोभ में अधिक खाद का उपयोग कर लेते हैं, जो कि फसलों के लिए नुकसानदायक साबित होता है. ऐसे में किसान भाईयों को खाद के इस्तेमाल (use of fertilizer) की सही जानकारी होना बहुत जरूरी है, इसलिए कृषि जागरण आज के इस लेख में किसान भाईयों के लिए DAP और Urea खाद का सही तरीके से इस्तेमाल करने की जानकारी लेकर आया है.

डीएपी को फसलों में सही तरीके से कैसे करें उपयोग (How to use DAP properly in crops)

अगर किसान भाईयों को फसलों में डीएपी का इस्तेमाल करना है, तो हेक्टेयर के हिसाब से पौधों की संख्या के बराबर DAP उपयोग (Use of DAP Per Hectare) कर सकते हैं. उदाहरण के लिए समझ लीजिए कि अगर 1 हेक्टेयर के लिए 100 किग्रा डीएपी का इस्तेमाल किया जा सकता है, जिससे फसल में जान आ जाती है, साथ ही आपकी फसल खेत में लहराने लगती है.

DAP Fertilizer Price: कितने रेट पर मिलेगी अब डीएपी खाद की बोरी, जानें क्या होगा नया भाव?

यूरिया को फसलों में सही तरीके से कैसे करें उपयोग (How to use Urea properly in crops)

अगर किसान भाईयों को अपनी फसलों में यूरिया का इस्तेमाल करना है, तो इसका एक फार्मूला होता है. दऱअसल, किसान भाई अपने खेत के हिसाब से यूरिया का उपयोग कर सकते हैं. यानी उर्वरक की मात्रा किग्रा/हेक्टेयर = किग्रा/हेक्टेयर पोषक तत्व ÷ उर्वरक में % पोषक तत्व x 100 का फार्मूला अपना सकते हैं. एक अनुमान के मुताबिक, यूरिया का प्रति एकड़ 200 पाउंड इस्तेमाल (Use of Urea Per Hectare) होता है, जिससे फसल में जान आ जाती है और फसल से बंपर पैदावार मिलती है.

English Summary: DAP Aur Urea khad Ko Fasalo Par Dalne Ka Nya Tareeka janiye Published on: 22 September 2022, 03:40 IST

Like this article?

Hey! I am कंचन मौर्य. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News