1. सम्पादकीय

सोयाबीन या अन्य़ फसलों में जल निकास का उचित प्रबंध करना जरूरी

खरीफ फसलों के सीजन की शुरुआत हो चुकी है और ऐसे में किसान भाइयों के लिए इसका नियमित लगातार निरीक्षण करना अति आवश्यक हो जाता है... क्योंकि अधिक वर्षा होने के कारण खेत व फसल में अधिक जल जमाव हो जाता है... और जिसकी वजह से फसलों को काफी नुकसान होता है... फसलों में जड़ गलन-पद गलन अर्ली ब्लाईट, बैक्टीरियल के साथ ही मौजेक बीमारियों का प्रकोप बढ़ जाता है। अत: किसान भाइयों को अपने-अपने खेतों की फसलो में जल निकास अनिवार्य करना होगा अन्यथा उनके फसलो को खराब होने से नहीं बचाया जा सकता... वहीं अपने साथ-साथ अपने आस-पास के किसानों को भी इन सभी चीजों से अवगत कराएं क्योंकि यह जानकारी सभी तक पहुंचना आवश्यक है...  क्योकि ये बीमारी आगे चलकर वाईरल इंफेक्शन के रूप में आगे दिन प्रति दिन बढ़ती जाती और गाँव के गाँव फसल खराब होकर केंशर का रूप ले लेती है।

 

सुजीत

कृषि जागरण

English Summary: Proper management of drainage is necessary in soybean or other crops

Like this article?

Hey! I am . Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News