Corporate

स्वराज इनोवेशन अवार्ड्स के तीसरे संस्करण में स्वराज ट्रैक्टर्स ने किया भारतीय कृषि के नायकों का सम्मान

20.7 बिलियन अमेरिकी डॉलर वाले महिंद्रा ग्रुप की एक इकाई स्वराज ट्रैक्टर्स ने 24 फरवरी को नई दिल्ली में आयोजित एक कृषि कॉन्क्लेव में स्वराज इनोवेशन अवार्ड्स 2020 के विजेताओं को पुरस्कार प्रदान किया. कृषि के क्षेत्र में किसानों और संस्थानों द्वारा दिए गए उल्लेखनीय योगदान को मान्यता देते हुए ये पुरस्कार प्रदान किए गए. माननीय केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर पुरस्कार समारोह में मुख्य अतिथि थे. तोमर ने किसानों के कल्याण के लिए स्वराज ट्रैक्टर के योगदान की सराहना की. भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद (आईसीएआर) और कृषि और किसान कल्याण मंत्रालय, भारत सरकार के साथ आयोजित दिनभर के यह कॉन्क्लेव ‘कृषि के माध्यम से भारतीय अर्थव्यवस्था में बदलाव‘ विषय पर केन्द्रित किया गया.

मुख्य वक्ता के तौर पर अपने विचार व्यक्त करते हुए स्वराज डिवीजन के सीईओ हरीश चव्हाण ने कहा, ‘‘स्वराज में हम वार्षिक स्वराज इनोवेशन अवार्ड्स की मेजबानी करते हुए गर्व का अनुभव करते हैं, क्योंकि यह अवार्ड्स हमें कृषि क्षेत्र में लोगों और संगठनों द्वारा हासिल की गई उपलब्धियों और उनके योगदान को पहचानने का अवसर प्रदान करते है. ये पुरस्कार प्रतिभागियों और पुरस्कार प्राप्तकर्ताओं को समुदाय के बड़े लाभ के लिए खेती और संबंधित क्षेत्रों में सर्वोत्तम प्रथाओं को साझा करने के लिए एक प्लेटफॉर्म प्रदान करते हैं.‘‘ चव्हाण ने आगे कहा, ‘‘देश के आर्थिक विकास में कृषि एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है और वर्तमान दौर में हमें अपने उत्पादन में तेजी लाते हुए स्थायी कृषि पद्धतियों को अपनाने की आवश्यकता है.‘‘

पुरस्कार समारोह में कृषि क्षेत्र के विभिन्न गणमान्य व्यक्ति और प्रमुख सरकारी अधिकारी भी शामिल हुए, जिन्होंने इस इवेंट के दौरान आयोजित पैनल चर्चा और तकनीकी सत्रों में भी भाग लिया. प्रतिभागियों को स्थायी और प्रौद्योगिकी संचालित कृषि पद्धतियाँ जैसे विभिन्न विषयों पर कृषि क्षेत्र में प्रसिद्ध विशेषज्ञों के विचार जानने का अवसर मिला.

स्वराज के बारे में

स्वराज ट्रैक्टर्स 20.7 बिलियन अमरीकी डॉलर वाले महिंद्रा ग्रुप का एक डिवीजन है और यह भारत का दूसरा सबसे बड़ा और सबसे तेजी से बढ़ने वाला ट्रेक्टर ब्रांड है। 1974 में स्थापित, स्वराज ने स्थापना के बाद से 1.5 मिलियन से अधिक ट्रैक्टर बेचे हैं। भारत में अनाज के कटोरे के तौर पर मशहूर पंजाब में स्थित स्वराज एक ऐसा ब्रांड है जो किसानों द्वारा किसान के लिए बनाया जाता है, क्योंकि उसके कई कर्मचारी भी किसान हैं। वे रीयल वल्र्ड परफोरमेंस लाते हैं और सुनिश्चित प्रदर्शन और स्थायी गुणवत्ता के साथ एक प्रामाणिक, शक्तिशाली उत्पाद बनाते हैं, जिसका एक ही उद्देश्य है- जिससे भारतीय किसान को आगे बढ़ने के अवसर मिल सकें। भारत में ग्राहक संतुष्टि में लगातार शीर्ष कंपनियों में शामिल स्वराज ट्रैक्टर्स 15एचपी से 65एचपी की रेंज में ट्रैक्टर बनाती है और खेती के संपूर्ण समाधान भी प्रदान करती है।

स्वराज ट्रैक्टर के बारे में अधिक जानें:www.swarajtractors.com

महिंद्रा के बारे में

महिंद्रा ग्रुप 20.7 बिलियन अमेरिकी डॉलर की कंपनियों का फेडरेशन है जो लोगों को आवागमन के नए समाधान, ग्रामीण समृद्धि को बढ़ावा, शहरी जीवन के विस्तार, नए व्यवसायों का पोषण करने और समुदायों को बढ़ावा देने में सक्षम बनाता है। उपयोगी वाहनों, सूचना प्रौद्योगिकी, वित्तीय सेवाओं और वैकेशन के मामले में इसकी स्थिति एक नेतृत्वकारी की रही है और उत्पादों की संख्या के आधार पर यह दुनिया की सबसे बड़ी ट्रैक्टर कंपनी है। महिंद्रा, कृषि व्यवसाय, खाद, वाणिज्यिक वाहनों, परामर्श सेवाओं, ऊर्जा, औद्योगिक उपकरण, रसद, रियल एस्टेट, स्टील, एयरोस्पेस, डिफेंस और टू-व्हीलर में अपनी मजबूत उपस्थिति का भी आनंद उठाता है। भारत में मुख्यालय वाला महिंद्रा 100 देशों के 2,40,000 से अधिक लोगों को रोजगार देता है।

महिंद्रा के बारे में और अधिक जानकारी के लिए विजिट करें www.mahindra.com ट्विटर और फेसबुकः @MahindraRise



English Summary: Swaraj Tractors recognises heroes of Indian Agriculture at the 3rd edition of Swaraj Innovation Awards

Share your comments


Subscribe to newsletter

Sign up with your email to get updates about the most important stories directly into your inbox

Just in