एमएसपी से नीचे बिक रहा गेहूँ, मौजूदा आँकड़ों के अनुसार खरीद में कमी

गेहूँ की खरीद में फिलहाल कमी देखी जा रही है। इसके मद्देनज़र खाद्द मंत्रालय का मानना है कि पंजाब, उत्तर प्रदेश में नई आवक के जरिए कुछ तेजी आ सकती है जबकि अभी तक जारी किए गए आंकड़ों के अनुसार पिछले सत्र के मुकाबले दस प्रतिशत कमी आई है। पिछले सत्र में साढ़े ग्यारह लाख टन गेहूँ इसी समय के बीच की गई थी लेकिन मौजूदा समय में गेहूं की खरीद कम आंकी गई है।

ज्ञात हो कि इस वर्ष गेहूँ की खरीद के लिए इस वर्ष ज्यादा का लक्ष्य रखा गया था। फिलहाल उस लक्ष्य को पूरा होने में उम्मीद कम है। हालांकि आवक फसल के अनुसार अभी उम्मीद है कि इस लक्ष्य को पूरा किया जा सकेगा। यदि बाजार का रुख करें तो गेहूं के न्यूनतम समर्थन मूल्य में भी कमी आई है यह 1735 रुपए प्रति क्विटंल पर आ गया है जिसका कारण नई फसल का बाजार में पहुँचना बताया जा रहा है। उल्लेखनीय है कि गेहूँ के प्रमुख उत्पादक राज्यों में नई फसल की कटाई के साथ बाजार में उतार-चढ़ाव देखा जा सकता है।

Comments