आपके फसलों की समस्याओं का समाधान करे
  1. बाजार

3.5 लाख टन कॉफ़ी उत्पादन का अनुमान

नई दिल्लीः एशिया के सबसे बड़े कॉफी उत्पादक एवं निर्यातक भारत में रकबा बढ़ने के कारण विपणन वर्ष 2017-18 में कॉफी उत्पादन रिकॉर्ड 3.50 लाख टन होने का अनुमान है। कॉफी बोर्ड ने फसल का पहला पूर्वानुमान जारी करते हुए कहा कि फली लगने से पहले किए गए अनुमान के हिसाब से इस विपणन वर्ष में 3.50 लाख टन कॉफी का उत्पादन होगा। इसमें अरेबिका किस्म का उत्पादन 1.03 लाख टन और रोबस्टा किस्म का उत्पादन 2.47 लाख टन रहने की उम्मीद है।

बोर्ड ने कहा, ‘‘यह एक बार फिर से रिकॉर्ड उत्पादन होगा। यह विपणन वर्ष 2016-17 के अंतिम आकलन से 38,400 टन यानी 12.31 प्रतिशत अधिक है।’’ उसने कहा कि उत्पादन में वृद्धि का मुख्य कारण कर्नाटक, केरल और तमिलनाडु में रकबा करीब 13,500 हेक्टेयर बढ़ना है। बोर्ड ने कहा कि प्रारंभिक आकलन मई में किया जाएगा और यदि फसल को कोई नुकसान हुआ तो उसे संशोधित आकलन में शामिल किया जाएगा।

देश के सबसे बड़े उत्पादक कर्नाटक में पिछले साल 2.21 लाख टन कॉफी का उत्पादन हुआ था जिसके इस साल बढ़कर 2.51 लाख टन रहने की उम्मीद है। पिछले साल की तुलना में राज्य में इस साल अरेबिका किस्म का उत्पादन 70,510 टन से बढ़कर 75,300 टन तथा रोबस्टा किस्म का उत्पादन 1,51,235 टन से बढ़कर 1,76,460 टन रहने की उम्मीद है। मुख्य तौर पर रोबस्टा किस्म का उत्पादन करने वाले केरल में उत्पादन पिछले साल के 63,265 टन से 8.31 प्रतिशत बढ़कर 68,520 टन रहने की संभावना है। इसी तरह तमिलनाडु में उत्पादन 16,335 टन से 17.29 प्रतिशत अधिक होकर 19,160 टन रहने की उम्मीद है। आंध्र प्रदेश, ओडिशा और पूर्वोत्तर क्षेत्र के गैर-पारंपरिक इलाकों में कॉफी उत्पादन 10,655 टन से बढ़कर 10,960 टन हो जाने की उम्मीद है। 

English Summary: Estimated 3.5 million tonnes of coffee production

Like this article?

Hey! I am . Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News