MFOI 2024 Road Show
  1. Home
  2. बाजार

Chana Price: चने की कीमतों में जबरदस्त उछाल, 10 हजार रुपये प्रति क्विंटल के पार पहुंचा भाव, अभी और बढ़ेंगे दाम

Chana Price: इन दिनों चने की कीमतों में तेजी देखी जा रही है.बीते 10 दिन के दौरान प्रमुख मंडियों में चना के थोक भाव 200 से 300 रुपये प्रति क्विंटल बढ़ चुके हैं. देशभर की मंडियों में चना MSP से दोगुनी कीमत पर बिक रहा है. आइए जानते हैं देशभर की मंडियों के दाम.

बृजेश चौहान
चने की कीमतों में जबरदस्त उछाल
चने की कीमतों में जबरदस्त उछाल

Chana Price: चने की खेती करने वाले किसानों के लिए खुशखबरी है. चने के दाम अब फिर से बढ़ने लगे हैं. जिससे किसानों को फायदा हो रहा है. दरअसल, इस बार चने का रकबा घटने के चलते उत्पादन में कमी आने की संभावना है. इसके अलावा, शादियों के सीजन लिए स्टॉकिस्टों और दाल मिलों द्वारा इसकी खरीद बढ़ाने पर जोर दिया जा रहा है. जिस वजह से पिछले कुछ हफ्तों में दाम तेजी से बढ़े हैं. बढ़ती कीमतों को अंदाजा आप इस बात से लगा सकते हैं की दाम 10 हजार रुपये प्रति क्विंटल को पार कर चुके हैं. वहीं, बाजार जानकारों की मानें तो आने वाले दिनों में भी चने की कीमतों में और तेजी आ सकती है.

5 फीसदी तक बढ़े चने के थोक भाव

इन दिनों चने की कीमतों में तेजी देखी जा रही है.बीते 10 दिन के दौरान प्रमुख मंडियों में चना के थोक भाव 200 से 300 रुपये प्रति क्विंटल बढ़ चुके हैं. देशभर की मंडियों में चना MSP से दोगुनी कीमत पर बिक रहा है. मौजूदा वक्त में केंद्र सरकार ने चने पर 5440 रुपये प्रति क्विंटल का न्यूनतम समर्थन मूल्य तय कर रखा है. देश की लगभग सभी मंडियों में नए चने की कीमतें MSP से ऊपर चल रही हैं. केंद्रीय कृष‍ि व क‍िसान कल्याण मंत्रालय के एगमार्कनेट पोर्टल के अनुसार, गुरुवार (1 फरवरी) को महाराष्ट्र की शहादा मंडी में चने को सबसे अच्छा दाम मिला. जहां, चने की उपज 10351 रुपये/क्विंटल के भाव में बिकी. इसी तरह, महाराष्ट्र की ही चोपडा मंडी में चने को 10351 रुपये/क्विंटल का भाव मिला. इसके अलावा, पश्चिम बंगाल की मेदिनीपुर (पश्चिम) मंडी में नया चना 8500 रुपये/क्विंटल, केरल की मंजेरी मंडी में 6300 रुपये/क्विंटल और पलक्कड़ मंडी में 8000 रुपये/क्विंटल के हिसाब से बिका. देश की अन्य मंडियों में भी चना औसतन 5440 के MSP से ऊपर ही बिक रहा है.

उतपादन में 15 फीसदी की गिरावट का अनुमान

चने की कीमतों में आ रही इस तेजी की प्रमुख वजह चने के रकबा में गिरावट आना है. ताजा सरकारी आंकड़ों के अनुसार देश में 102.90 लाख हेक्टेयर में चना बोया जा चुका है, जो पिछले साल की समान अवधि के रकबा 109.73 लाख हेक्टेयर से करीब 6 फीसदी कम है. आईग्रेन इंडिया में कमोडिटी विश्लेषक राहुल चौहान ने कहा कि चने की बोआई कम होने से उत्पादन भी घटने की संभावना है. वहीं, कमोडिटी विश्लेषक इंद्रजीत पॉल कहते हैं कि इस साल चने की पैदावार में 15 फीसदी गिरावट आ सकती है. उत्पादन घटने की आशंका में चने की कीमतों में तेजी आ रही है. नेफेड के पास भी चने का करीब 10 लाख टन और निजी कारोबारियों के पास करीब 5 लाख टन का स्टॉक बचा है, जो मांग के हिसाब से सीमित स्टॉक कहा जा सकता है. जानकारों के मुताबिक आगे शादियों के सीजन में दाल मिलों की ओर से चने का मांग और बढ़ सकती है. ऐसे में आगे चने की कीमतों में तेजी जारी रह सकती है. पॉल के अनुसार चने के दाम बढ़कर औसतन 6,350 और अधिकतम 10 हजार रुपये प्रति क्विंटल को पार कर सकते हैं.

यहां देखें अन्य फसलों की लिस्ट

बता दें कि किसी भी फसल का दाम उसकी क्वालिटी पर भी निर्भर करता है. ऐसे में व्यापारी क्वालिटी के हिसाब से ही दाम तय करते हैं. फसल जितनी अच्छी क्वालिटी की होगी, उसके उतने ही अच्छे दाम मिलेंगे. अगर आप भी अपने राज्य की मंडियों में अलग-अलग फसलों का दाम देखना चाहते हैं, तो आधिकारिक वेबसाइट https://agmarknet.gov.in/ पर जाकर पूरी लिस्ट चेक कर सकते हैं.

English Summary: Chana price Chana mandi bhav price crossed 10 thousand rupees per quintal know the latest price Published on: 02 February 2024, 02:39 PM IST

Like this article?

Hey! I am बृजेश चौहान . Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News