Commodity News

ऐसे व्यवसाय जो भविष्य में बढ़ाएंगे किसानों की आमदनी

आज के समय में सूखा, ऋण और बारिश के कारण किसानो को कई समस्याओं का सामना करना पड़ता है. इन्ही समस्याओं से निकालने के लिए, हम किसानों की आमदनी बढ़ाने के लिए ऐसे बिजनेस लेकर आए है.  इन बिजनेस को अपनाकर  किसान अपनी आमदनी को दोगुना कर सकते है.

इसलिए यदि आप कृषि में लाभदायक भविष्य की तलाश में हैं, तो हम आपको ऐसे कृषि संसाधनों में अपने संसाधनों और लोगी की बढ़ती मांग को देखते हुए ऐसे व्यवसाय बतायेगे जो आपको भविष्य में फायदा दिलाएंगे.

कृषि व्यवसाय को तीन श्रेणियों में बांटा गया है:

1. उत्पादक संसाधन जैसे फ़ीड, बीज, उर्वरक, उपकरण, ऊर्जा, मशीनरी इत्यादि.

2. खाद्य और फाइबर की कच्ची और संसाधित वस्तुओं जैसे कृषि वस्तुओं.

3. क्रेडिट, बीमा, विपणन, भंडारण, प्रसंस्करण, परिवहन, पैकिंग आदि जैसी सुविधा सेवाएं.

शीर्ष लाभदायक कृषि व्यवसाय विचार निम्नानुसार हैं:

1. कृषि खेती

आप उचित पैसे निवेश करके कृषि खेती शुरू कर सकते है. आप लोगों की बढ़ती मांग के अनुसार वस्तुओं का उत्पादन कर सकते हैं और उन्हें स्थानीय रूप से बेच सकते हैं. दूरदराज के क्षेत्रों के लिए आप डीलरों के  माध्यम से भी उत्पाद की आपूर्ति कर सकते हैं. 

वर्मीकंपोस्ट कार्बनिक उर्वरक उत्पादन

इसे बहुत कम निवेश की आवश्यकता है और इसलिए इसे कृषि व्यवसाय शुरू करने के लिए लाभदायक माना जा सकता है. आप उत्पादन प्रक्रिया के उचित तरीके से इस व्यवसाय को बस शुरू कर सकते है.

सूखे फूल व्यापार

फूल उत्पादन आज की कृषि में सबसे तेज़ी से बढ़ रहे फसल के रुझानों में से एक है. इसके लिए सभी प्रकार के फूलों की आवश्यकता होती है, विशेष रूप से अद्वितीय और किस्मों को विकसित करना मुश्किल  होता है.

मशरूम खेती व्यवसाय

 इस व्यवसाय को करके आप कुछ हफ्तों में अच्छा मुनाफा कमा सकते हैं. इसके लिए कम शुरुआत के निवेश की आवश्यकता है. यहां तक कि मशरूम के बढ़ते ज्ञान के साथ और खेत के मशरूम खेती के व्यवसाय के साथ भी किया जा सकता है.

मुर्गी पालन

यह तीन दशकों तक मुर्गी  की खेती की स्थिति में बहुत बदलाव आए है. यह  एक तकनीकी-वाणिज्यिक उद्योग में बदल गया है.इसे कृषि और कृषि व्यवसाय का सबसे तेजी से बढ़ता हुआ क्षेत्र माना जाता है.

जैविक फार्म ग्रीन हाउस

जैविक रूप से उगाए जाने वाले कृषि उत्पादों की बढ़ती मांग ने इस कृषि व्यवसाय का बहुत विकास किया है. क्योंकि  रसायनों और उर्वरकों के साथ उगाए जाने वाली चीज़ों में हमारी सेहत सम्बंधित समस्या होने का डर होता है , पर आजकल के  लोगों में जैविक चीज़ों की तरफ रुझान बढ़ रहा है.

मनीशा शर्मा, कृषि जागरण



Share your comments


Subscribe to newsletter

Sign up with your email to get updates about the most important stories directly into your inbox

Just in