1. मौसम

मौसम के मिजाज में हुआ बड़ा बदलाव, कोल्ड डे कंडीशन से लोगों को मिल सकती है राहत

Weather Forecast Today

उत्तर भारत में ठंड की गलन से लोगों को राहत नहीं मिल रही है. घने कोहरे के बाद हिमालय से आने वाली हवाओं ने दिल्ली-एनसीआर समेत पूरे उत्तर भारत में गलन बढ़ा दी है. दिल्ली में आज न्यूनतम तापमान 10 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया. IMD के मुताबिक वहीं पंजाब के अमृतसर में न्यूनतम तापमान 4.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया.

बता दें कि पंजाब और हरियाणा के ज्यादातर इलाकों में बुधवार को न्यूनतम तापमान सामान्य से अधिक दर्ज किया गया. वहीं हरियाणा में 22 जनवरी तक घने कोहरे और शीतलहर का कहर बरकरार रहने के आसार हैं. मौसम विशेषज्ञों की मानें तो 22 जनवरी तक ऐसा ही मौसम रहेगा. 23 जनवरी को बादल छाने के साथ ही बरसात हो सकती है. जोकि फसलों के लिए फायदेमंद साबित हो सकता है. ऐसे में आइए निजी मौसम एजेंसी स्काइमेट वेदर के अनुसार जानते हैं आगामी 24 घंटों के मौसम का पूर्वानुमान -

सम्पूर्ण भारत का 21 जनवरी, 2021 का मौसम पूर्वानुमान (Weather Forecast of January 21, 2021 across India)

एक चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र बंगाल की खाड़ी के दक्षिण-पश्चिमी भागों और इससे सटे हिन्द महासागर में भूमध्य रेखा के ऊपर बना हुआ है. इस सिस्टम से उत्तरी तटीय तमिलनाडु तक एक ट्रफ रेखा बनी हुई है. एक पश्चिमी विक्षोभ उत्तर भारत की तरफ आ रहा है. यह सिस्टम उत्तरी अफगानिस्तान और इससे सटे भागों के ऊपर पहुँच गया है.

अगले 24 घंटों के दौरान मौसम की संभावित गतिविधि

अगले 24 घंटों के दौरान सिक्किम से लेकर असम और अरुणाचल प्रदेश में कई जगहों पर हल्की से मध्यम बारिश के बीच एक-दो स्थानों पर भारी बारिश जारी रहने की संभावना है. अरुणाचल प्रदेश में ऊंचाई वाले स्थानों पर हल्की बर्फबारी भी हो सकती है. उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल, मेघालय, नागालैंड, मणिपुर और दक्षिणी तटीय तमिलनाडु में कुछ स्थानों पर हल्की वर्षा हो सकती है.

गंगा के मैदानी इलाकों में उत्तर-पश्चिमी हवाओं की रफ्तार बढ़ने से कोहरे का असर कम हो जाएगा. हरियाणा और राजस्थान में जारी कोल्ड डे कंडीशन से भी लोगों को राहत मिल सकती है.

Like this article?

Hey! I am विवेक कुमार राय. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News