Weather

मौसम पूर्वानुमान : दिल्ली, हरियाणा और पंजाब समेत इन 8 राज्यों में होगी बारिश

heavy rain

जुलाई माह बीतने को हैं, कई राज्य भारी बारिश की वजह से से परेशान है. तो कई राज्यों में इतनी बारिश हो रही है कि वहां के नदियों में बाढ़ आ गई हैं. तो वही झारखंड के रांची में अभी तक सिर्फ 50 फीसदी बारिश हुई है. सावन के महीने में रांची के लोगों को चिलचिलाती धूप का सामना करना पड़ रहा है. मौसम की बेरुखी का सबसे बुरा प्रभाव फसलों पर पड़ रहा है. बारिश नहीं होने की वजह से खेतों में दरार पड़ने लगी है. जो फसल खेतों में लगे हैं वो मरने लगे है. सबसे ज्यादा सब्जी की खेती प्रभावित हुई है, तो वही विभाग ने छत्तीसगढ़ के एक-दो जिलों में अगले 48 घंटे के भीतर भारी बारिश की आशंका संभावना जताई है. मौसम विभाग के मुताबिक, अगले 48 घंटों में दुर्ग, रायपुर, जांजगीर, बिलासपुर, रायगढ़ और बस्तर संभाग के एक-दो स्थानों पर भारी वर्षा होगी. अगले 24 घंटों के दौरान, केरल और दक्षिणी कर्नाटक के तटीय भागों में भारी से मूसलाधार बारिश की संभावना है. ऐसे में आइए निजी मौसम एजेंसी स्काइमेट के अनुसार जानते है देशभर में होने वाले अगले 24 घंटों के दौरान मौसम की गतिविधियों के बारे में - 

heavy rin warning

देश भर में बने मौसमी सिस्टम

मॉनसून की उत्तरी सीमा यानि एन एल एम इस समय बाड़मेर, जोधपुर, चूरू, हनुमानगढ़ होते हुए श्री गंगानगर से होकर गुजर रही है. एक ट्रफ रेखा राजस्थान के उत्तरी भागों से होते हुए हरियाणा तथा उत्तर प्रदेश के दक्षिणी भाग, झारखंड और गंगीय पश्चिम बंगाल से लेकर उत्तरी बंगाल की खाड़ी तक फैली हुई है. उत्तर पूर्वी राजस्थान और उससे सटे राजस्थान के भागो पर एक चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र बना हुआ है. एक अन्य चक्रवाती क्षेत्र मध्य पाकिस्तान के भागों पर बना हुआ है. एक ऊपरी वायु प्रणाली के रूप में एक पश्चिमी विक्षोभ उत्तरी अफगानिस्तान और उससे सटे पाकिस्तान पर बना है. बंगाल की उत्तरी खाड़ी के ऊपर एक और चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र विकसित हुआ है. इसके अलावा, मध्य असम के ऊपर भी एक और चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र देखा जा सकता है. एक पश्चिमी तटीय तरफ कि गोवा से लेकर केरल तक फैला है वह अभी भी सक्रिय है. एक और चक्रवाती क्षेत्र दक्षिणी आंध्र प्रदेश तट पर और उससे सटे उत्तरी तमिलनाडु तट पर है.

पिछले 24 घंटों के दौरान हुई मौसमी गतिविधियां

पिछले 24 घंटों के दौरान, गंगीय पश्चिम बंगाल, दक्षिणी कोंकण व गोवा, हिमाचल प्रदेश और उत्तर प्रदेश के उत्तरी भागों के एक-दो स्थानों पर भारी बारिश रिकॉर्ड की गई. इसके अलावा, पूर्वोत्तर राज्यों सहित केरल, पंजाब और उत्तराखंड में मध्यम बारिश देखी गई. पूर्वी बिहार, पश्चिम बंगाल, ओडिशा, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, तमिलनाडु, दक्षिणी कर्नाटक, मध्य महाराष्ट्र और दक्षिणी गुजरात के हिस्सों में हल्की बारिश दर्ज की गयी है. देश के बाकी हिस्सों में मौसम शुष्क बना रहा.

heavy rain warning

अगले 24 घंटों का मौसम पूर्वानुमान

अगले 24 घंटों के दौरान, केरल और दक्षिणी कर्नाटक के तटीय भागों में भारी से मूसलाधार बारिश की संभावना है. दक्षिण कोंकण व गोवा, तेलंगाना, उत्तरी आंध्र प्रदेश, दक्षिणी ओडिशा, दक्षिणी छत्तीसगढ़, दिल्ली, हरियाणा, उत्तरी राजस्थान, उत्तरी पंजाब, दक्षिणी हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड और पूर्वोत्तर राज्यों के ज्यादातर हिस्सों में मध्यम बारिश की संभावना है. इस बीच, राजस्थान के अधिकांश जगहों सहित उत्तरी गुजरात और कच्छ, मध्य प्रदेश के कई इलाके तथा मध्य और पूर्वी उत्तर प्रदेश, पश्चिमी बिहार और उससे सटे उत्तरी झारखंड में मौसम शुष्क बने रहने की संभावना है. देश के बाकी हिस्सों में छिटपुट बारिश के आसार हैं.


साभार: skymetweather.com



Share your comments