1. मौसम

मौसम अलर्ट: पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, राजस्थान और पश्चिमी उत्तर प्रदेश में बारिश के आसार, गिरेगा तापमान

मौसम विभाग के मुताबिक, प्री-मॉनसून सीजन उत्तर भारत के लिए अब तक काफी बेहतर साबित हुआ है. खासतौर पर बारिश के संदर्भ में. 1 मार्च से 12 अप्रैल तक उत्तर भारत के पर्वतीय अरु मैदानी भागों में लगभग सभी राज्यों में सामान्य से ज्यादा वर्षा रिकॉर्ड की गई है . अब इस बीच एक नया और सक्रिय पश्चिमी विक्षोभ उत्तर भारत की तरफ आ रहा है. इस सिस्टम के प्रभाव से उत्तर भारत के पर्वतीय राज्यों में 13 अप्रैल से बारिश होने की संभावना है.

विवेक कुमार राय

मौसम विभाग के मुताबिक, प्री-मॉनसून सीजन उत्तर भारत के लिए अब तक काफी बेहतर साबित हुआ है. खासतौर पर बारिश के संदर्भ में. 1 मार्च से 12 अप्रैल तक उत्तर भारत के पर्वतीय अरु मैदानी भागों में लगभग सभी राज्यों में सामान्य से ज्यादा वर्षा रिकॉर्ड की गई है . अब इस बीच एक नया और सक्रिय पश्चिमी विक्षोभ उत्तर भारत की तरफ आ रहा है. इस सिस्टम के प्रभाव से उत्तर भारत के पर्वतीय राज्यों में 13 अप्रैल से बारिश होने की संभावना है. इसी पश्चिमी विक्षोभ और उसके प्रभाव से विकसित होने वाले चक्रवाती सिस्टम का प्रभाव मैदानी इलाकों पर भी दिखेगा. अनुमान है कि पंजाब, हरियाणा, दिल्ली-एनसीआर और उत्तरी राजस्थान तथा पश्चिमी उत्तर प्रदेश में 13 और 14 अप्रैल को कुछ स्थानों पर बारिश हो सकती है. इन भागों में 15 अप्रैल तक हवाओं में नमी बनी रहेगी जिससे हल्के बादलों का आना जाना लगा रहेगा और धूल भरी आंधी या गर्जना के साथ 15 अप्रैल तक बूँदाबाँदी होने की संभावना है. उत्तरी और पश्चिमी राजस्थान में अप्रैल और मई के महीनों में तापमान बढ़ने पर अचानक आंधी और बारिश जैसी स्थितियां देखने को मिल सकती हैं. ऐसे में आइए निजी मौसम एजेंसी स्काइमेट के अनुसार जानते है आगामी 24 घंटों के मौसम का पूर्वानुमान - 

देश भर में बने मौसमी सिस्टम

उत्तरी पाकिस्तान और इससे सटे भागों पर एक नया पश्चिमी विक्षोभ पहुँच गया है. इसके प्रभाव से विकसित हुआ चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र मध्य पाकिस्तान और इससे सटे पश्चिमी राजस्थान पर है. दक्षिणी तटीय कर्नाटक से दक्षिणी राजस्थान तक एक ट्रफ रेखा दिखाई दे रही है. पूर्वी भारत में भी एक चक्रवाती सिस्टम बना हुआ है. यह उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल और सिक्किम के ऊपर है.

पिछले 24 घंटों में कैसा रहा मौसम

पिछले 24 घंटों के दौरान असम के पश्चिमी हिस्सों, उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल और सिक्किम में गरज के साथ हल्की से मध्यम बौछारें पड़ीं. मध्य महाराष्ट्र में कुछ स्थानों पर, और दक्षिणी मध्य प्रदेश तथा आंतरिक कर्नाटक में कहीं-कहीं गर्जना के साथ हल्की वर्षा हुई. पश्चिमी राजस्थान, गुजरात, विदर्भ, छत्तीसगढ़ और पूर्वी उत्तर प्रदेश के कई हिस्सों में अधिकतम तापमान में 2 से 3 डिग्री की वृद्धि हुई.

आगामी 24 घंटों का मौसमी पूर्वानुमान

अगले 24 घंटों के दौरान पूर्वोत्तर भारत में हल्की से मध्यम बारिश गरज के साथ कहीं-कहीं तेज़ बौछारें जारी रह सकती हैं. केरल, तटीय कर्नाटक और मध्य महाराष्ट्र के कुछ हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश होने या गरज-चमक के साथ बौछारें गिरने की संभावना है. केरल में कुछ स्थानों पर तेज़ बौछारें गिर सकती हैं. जम्मू कश्मीर और हिमाचल प्रदेश के कुछ हिस्सों में हल्की बारिश शुरू हो सकती है. उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल और सिक्किम में भी छिटपुट बारिश होने या गरज के साथ बौछारें गिरने की संभावना है.

English Summary: Weather Alert: Rain, temperatures will fall in Punjab, Haryana, Delhi, Rajasthan and Western Uttar Pradesh Published on: 13 April 2020, 11:23 IST

Like this article?

Hey! I am विवेक कुमार राय. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News