1. सफल किसान

हाइब्रिड किस्मों के फूलों की बागवानी कर नीतू हर महीने कमा रही हैं लाखों रुपए

स्वाति राव
स्वाति राव

Neetu Sunish

आज हम आपको ऐसे सफल महिला किसान की कहानी बताने जा रहे हैं जिन्होंने लोटस और वाटर लिली की बागवानी कर अपनी खुद की पहचान बनाई है. बता दें केरल की रहने वाली नीतू सुनिश ने नए – नए हाइब्रिड फूलों की बागवानी कर एक मिसाल कायम की है.

केरल की नीतू सुनिश को फूलों के प्रति बचपन से ही काफी लगाव था, वह कई सालों से अपने घर में अलग – अलग तरह की गार्डनिंग कर रही हैं, लेकिन कोविड-19 के दौरान उन्होंने अपने इस शौख को एक बिजनेस वेंचर के रूप में शुरुआत की. आज नीतू ने प्रयोगों और अवलोकनों से प्राप्त ज्ञान को लागू करके बागवानी में एक अलग रास्ता बनाया है.

दरअसल,  नीतू सुनिश मूल रूप से केरल की रहने वाली हैं. जोकि कुछ साल पहले अध्यापिका भी रह चुकी हैं. नीतू का कहना है कि उनके पति NHPC Ltd  में काम करते थे, लेकिन उनका तबादला होने की वजह से उन्हें अपनी नौकरी छोडनी पड़ गई, जिसके बाद से नीतू ने अपना खुद का ऑनलाइन कपड़े बेचने का बिजनेस की शुरुआत की. आगे नीतू का कहना है कि उनको बचपन से ही बागवानी करने का शौक था, और इसी शौक को उन्होंने कायम रखा और आज वह हाइब्रिड किस्मों के लिली और कमल के फूलों की बागवानी कर अचका मुनाफा भी कमा रही हैं.

हाइब्रिड फूलों की बागवानी की कैसे की शुरुआत (How To Get Started With Hybrid Flower Gardening)

नीतू का कहना है कि वह अपने घर के बाग़ में कई तरह के फूलों की बागवानी करती थीं, और इसके साथ ही अपने गार्डन में एक छोटे से तालाब में कमल और और लीली को भी उगाया करती थीं,  लेकिन बाद में उन्हें इसकी हाइब्रिड किस्मों के बारे में पता चला,  जिसके बाद पहली बार ओडिशा से ट्यूबर मंगाकर इसे लगाया. इसके बाद उन्होंने फिर हर तरह के फूलों के ट्यूबर मंगवा कर लगाया.

इस खबर को भी पढ़ें - जैविक खेती ने दिखाई सपना देवी को सफलता की राह

इस तरह से उन्होंने अपने घर में गार्डनिंग की शुरुआत की और फिर धीरे – धीरे उन्होंने इसे सोशल मीडिया पर अपनी इस गार्डनिंग की तस्वीरें पोस्ट करनी शुरू कर दी. और देखते ही देखते इनकी इस ट्यूबर को लोग काफी पसंद करने लगे और और इस तरह से उनके इस हाइब्रिड फूलों की मांग भी बढ़ने लगी.

नीतू सुनिश कई लोग को दे रही हैं ट्रेनिंग (Neetu Sunish Is Giving Training To Many People)

नीतू अपने घर में की गई इस बागवानी की ट्रेनिंग काफी लोगों को दे रही हैं. नीतू का कहना कि लोग उनके इस गार्डनिंग से काफी प्रभावित हो रहे हैं और उनसे इसकी ट्रेनिंग भी लेकर अपने घर में इसकी गार्डनिंग भी कर रहे हैं. वर्तमान में नीतू इस हाइब्रिड गार्डनिंग से हर महीने 10 – 30 हजार कमा रही हैं.    

English Summary: Neetu is earning lakhs of rupees every month from gardening!

Like this article?

Hey! I am स्वाति राव. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters