1. ग्रामीण उद्योग

इस तरह बन सकता है एलोवेरा कमाई का साधन, जानिए मास्टर प्लान

आम तौर पर सामान्य दिखने वाला एलोवरा कमाई का अच्छा साधन हो सकता है. इसको लेकर लोगों में और विशेषकर महिलाओं में दिलचस्पी बढ़ती जा रही है. यही कारण है कि आज के समय में कॉस्मेटिक्स कंपनियां ब्यूटी प्रोडक्टस बनाने के लिए इसका उपयोग करने लगी है. इतना ही नहीं टेक्सटाइल इंडस्ट्री में भी इसकी खासी मांग है. अच्छी डिमांड के कारण किसान भी एलोवेरा की खेती की तरफ आकर्षित हो रहे हैं. विशेषज्ञों की माने तो एलोवेरा की खेती आज लाखों किसानों को बड़ा बिजनेस दे रही है. चलिए आज हम आपको बताते हैं कि कैसे आप भी इसकी खेती के सहारे अच्छा मुनाफा कमा सकते हैं.

क्या करना है

एलोवेरा की खेती कैसे करनी होती है, इसके बारे में आपको पूरी जानकारी कृषि जागरण के पोर्टल पर मिल जाएगी. इसके लिए आपको बस यहां क्लिक करना है. यहां हम आपको बताएंगें कि कैसे अच्छे उत्पादन को मुनाफे में बदला जा सकता है.

आपको सबसे पहले किसी कंपनी के साथ समझौता करना है. आपके पैदावार को बाद में कंपनियां खरीद लेंगी. वैसे आप चाहे तो खुद भी इसकी प्रोसेसिंग यूनिट लगा सकते हैं. ऐसा करके आप खुद भी एलोवेरा का पल्प निकाल कर कंपनियों को कच्चे माल की तरह बेच सकते हैं.

एलोवेरा से आमदनी

विशेषज्ञों के मुताबिक औसत रूप से एलोवेरा की 1 एकड़ खेती से वर्ष में 5 से 7 लाख रुपयों की कमाई हो सकती है.

जरूरी बात

एलोवेरा के पल्प के अलावा उसके पत्तियों का अलग महत्व है. इसलिए कंपनियों को केवल पल्प ही बेचे और अगर आप पल्प के साथ पत्तियों को भी बेचना चाहते हैं तो इसके लिए अलग राशि की मांग करें. ध्यान रहे कि बरसात या ठंड के मौसम में भी एलोवेरा के खेतों को अधिक पानी के आवश्यकता नहीं होती, इसलिए यहां अधिक पानी न जमा होने दें. वैसे आप कंपनियों के साथ कुछ सालों की कॉनट्रैक्ट फार्मिग का करार भी कर सकते हैं. इसके लिए एफसीसीआई से लाइसेंस भी लिया जा सकता है.

English Summary: you can earn good profit by Aloe verafarming know more about it

Like this article?

Hey! I am सिप्पू कुमार. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News