News

इस राज्य के 92 गांवों को घोषित किया गया सर्वाधिक सूखाग्रस्त...

सूखे की समस्या से जूझ रहे राज्य के कुछ जनपदों की मदद के लिए राज्य सरकार ने उनके जीवन निर्वाह के लिए खाने पीने की चीज़ो के इन्तज़ाम के आदेश दिए है. आपको बतादे की लखनऊ के इन पांच जनपद - महोबा, सोनभद्र, मिर्जापुर, ललितपुर एवं झांसी-को सर्वाधिक सूखा प्रभावित जनपद घोषित किया है।

सचिव एवं राहत आयुक्त संजय कुमार ने बताया कि निर्धारित मानक के अनुसार अन्त्योदय लाभार्थियों में से जिन परिवारों की आमदनी का जरिया प्राकृतिक आपदा से प्रभावित हुआ है, ऐसे परिवारों को 15 किलो आटा, 25 किलो आलू, 5 किलो चने की दाल, 1 किलो आयोडीन युक्त नमक, 1 किलो शुद्ध देशी घी, तीन लीटर सरसों का तेल और साथ ही बच्चों के लिए एक किलो मिल्क पाउडर दिया जायेगा, और साथ ही सरकार ने इस योजना में खाने पीने की सभी चीज़े पैक करके भेजने के आदेश दिए है जिससे खाने पीने की चीज़ो की क्वालिटी और उसकी सुरक्षा कम न हो। 

यह खाद्यान सामग्री पंद्रह दिन के लिए दी जाएगी। जिला अधिकारियो का कहना है की खाने पीने की चीज़े वितरण से पहले सरकार के दिशा निर्देशों का पालन किया जा रहा है। साथ ही राहत आयुक्त ने बताया कि कुल 92 गांवो को सूखाग्रस्त घोषित किया गया है। राहत आयुक्त ने बताया कि सूखे से गम्भीर रूप से प्रभावित परिवारों के लिए राहत सामग्री का क्रय जिलाधिकारी की अध्यक्षता में गठित जिला आपदा राहत समिति की सिफारिश करके उपलब्ध कराई जायेगी। 



Share your comments