News

मानव पशु टकराव को आपदा घोषित करने वाला पहला राज्य बना यूपी

आपने अभी तक बहुत सारे आपदाओं के बारे में सुना होगा लेकिन मानव पशु टकराव आपदा के बारे में आप शायद नहीं जानते होंगे. आपको हम बता दें की उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के मंजूरी के बाद अब मानव पशु टकराव को एक राज्य आपदा के रूप में देखा जायेगा. यह जानकारी उत्तर प्रदेश के राहत आयुक्त संजय कुमार ने दी. संजय कुमार ने कहा की हमारी सरकार ने एक ऐतिहासिक फैसला लिया है. इसी ऐतिहासिक फैसले के साथ यह देश का पहला राज्य बन गया है जहां मानव और पशु टकराव को एक आपदा घोषित की गई है. इस विषय में आदेश भी जारी कर दिया गया है.

इस आदेश के मुताबिक़ पशु मानव टकराव आपदा से मृतक के परिजनों को पांच लाख रूपये तक का मुवाबजा दिया जायेगा. यदि इस आपदा से कोई व्यक्ति घायल होता है तो उसे भी मदद राशि एसडीआरएफ के दिशा-निर्देशों के अनुसार मिलेगी.

संजय कुमार ने बताया की देश में ऐसा पहली बार हुआ है जब शेर और सुकर को जंगली जीवों की सूची में जोड़ा गया है. बाघ, तेंदुआ, भारतीय भेड़िया, लकड़बग्घा, मगरमच्छ, हाथी और गेंडा आदि पहले से ही इस सूची में जुड़ चुके है. उन्होंने बताया की जब पोस्टमार्टम रिपोर्ट और जिलाधिकारी की कागजी कार्यवाही हो जायेगी तो घटना के 24 घंटे के अंदर ही आरटीजीएस के जरिए यह राहत देना संभव होगा.

प्रभाकर मिश्र, कृषि जागरण



English Summary: UP becomes the first state to declare human animal conflict as disaster

Share your comments


Subscribe to newsletter

Sign up with your email to get updates about the most important stories directly into your inbox

Just in