राष्ट्रीय केमिकल्स एंड फर्ट्रिलाइजर्स की जमीन (एमएमआरडीए) को हस्तांतरण

प्रधानमंत्री  नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में केन्द्रीय मंत्रिमंडल ने पूर्व प्रभाव से निम्नलिखित मंजूरी दी है| मेसर्स राष्ट्रीय केमिकल्स एंड फर्ट्रिलाइजर्स (आरसीएफ) की जमीन का मुंबई महानगरीय क्षेत्रीय विकास प्राधिकरण (एमएमआरडीए) को हस्तांतरण।आरसीएफ भारत में सार्वजनिक क्षेत्र की उर्वरक और रसायन निर्माता कंपनी है। इसकी स्थापना 6 मार्च, 1978 को पुराने भारतीय उर्वरक लिमिटेड का पुनर्गठन करके की गई थी। अभी आरसीएफ की प्राधिकृत शेयर पूंजी 800 करोड़ रुपये है और कंपनी की प्रदत्त पूंजी 551.69 करोड़ रुपये है। कंपनी को 1997 में ‘मिनी रत्न’ का दर्जा दिया गया। एमएमआरडीए ने आरसीएफ की 48,849.74 वर्ग मीटर जमीन (8265 वर्ग मीटर ऋणभारमुक्त/मुक्त जमीन और 40584.74 वर्ग मीटर ऋणभारग्रस्त जमीन) का अधिग्रहण किया और ईस्टर्न फ्री वे-अनिक पंजरापोल लिंक रोड (एपीएलआर) पूरा किया और इसे सार्वजनिक उपयोग के लिए वर्ष 2014 में खोला। आरसीएफ ने अंतरिम राहत के रूप में एमएमआरडीए से 8265 वर्ग मीटर ऋणभार मुक्त जमीन के स्थान पर 16530 वर्ग मीटर का टीडीआर प्रमाण पत्र प्राप्त किया। 40584.74 वर्ग मीटर की ऋणग्रस्त जमीन की एवज में टीडीआर/मुआवजे के लिए आरसीएफ के दावे का निर्णय पंच द्वारा किया जा रहा है।

आरसीएफ लंबे समय से एमसीजीएम के मुंबई विकास योजना से आरसीएफ कॉलोनी की अंदुरुनी सड़कों को हटाने की मांग कर रही थी। बाद में आरसीएफ ने पारस्परिक सहमति की शर्तों पर मुआवजे के रूप में टीडीआर के बदले 16000 वर्ग मीटर जमीन (स्थान पर वास्ताविक पैमाइश के अधीन) 18.3 मीटर के डीपी रोड निर्माण के लिए देने पर सहमत हो गई।

Comments