इस बजट में बढ़ सकती है कृषि लोन की राशि...

इस साल का बजट आने वाला है. इसी के चलते किसानों को इस बजट से बड़ी उम्मीदें है. सरकार ने कृषि क्षेत्र में ऋण उपलब्धता बढ़ाने के लिए सरकार आगामी बजट में कृषि ऋण लक्ष्य बढ़ाकर रिकॉर्ड 11 लाख करोड़ रुपए कर सकती है.

सरकारी आंकड़ों के अनुसार, चालू वित्त वर्ष के दौरान कृषि ऋण लक्ष्य 10 लाख करोड़ रुपए रखा गया है. इसमें से पहले छह महीने में सितंबर तक 6.25 लाख करोड़ रुपए का ऋण वितरित किया जा चुका है. इस बार सरकार की पहली प्राथमिकता कृषि है, अगले वित्त वर्ष के लिए बढ़ाकर श्रृण का बजट 11 लाख करोड़ रुपए कर कर दिया जाएगा.

सामान्य तौर पर कृषि ऋण 9 प्रतिशत ब्याज दर पर उपलब्ध होता है लेकिन सरकार इस पर ब्याज सहायता उपलब्ध कराती रही है. तीन लाख रुपए तक का अल्पकालिक कृषि ऋण सात प्रतिशत ब्याज पर उपलब्ध होता है. सरकार दो प्रतिशत ब्याज सहायता देती है. इसके अलावा समय पर कर्ज लौटाने वाले किसानों को तीन प्रतिशत की अतिरिक्त रियायत मिलती है. इसके बाद वास्तविक ब्याज दर चार प्रतिशत रह जाती है. इससे किसान को सहूलियत मिलती है. इस बार कृषि श्रृण का बजट बढ़ाये जाने से किसानों को काफी राहत मिलेगी.

Comments