26/11 को देश में हुआ वो आतंकी हमला, जिसने पूरे देश को हिला कर रख दिया था

देश की औद्योगिक राजधानी मुंबई में आज ही के दिन 10 साल पहले एक ऐसा आतंकी हमला हुआ था जिसने पूरे देश को हिला कर रख दिया था. पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान से पानी के रास्ते भारत में घुसे कुछ आतंकी 26 नवम्बर को मुंबई में दाखिल हुए और 26 नवंबर 2008 को भारत के मुंबई शहर को खून से लाल कर दिए थे. यह भारत पर हुआ सबसे बड़ा आतंकी हमला था जिसने पूरी दुनिया को अमेरिका में हुए 9/11 हमले की याद दिला दिया था. देश में हुए इस आतंकी हमले की वैश्विक निंदा की गई थी.

एक रिपोर्ट्स के मुताबिक,  बुधवार, 26 नवंबर को शुरू हुए और शनिवार, 29 नवंबर 2008 तक चले,  इस आतंकी हमले में 164 लोगों की मौत हो गई थी और तक़रीबन 308 लोग घायल हो गए थे. इस भीषण हमले में मरने वालों में भारतीयों के साथ कुछ अमेरिकी नागरिक भी शामिल थे. इस घटना  के वजह से से उस समय देशभर में खौफ का गंभीर वातावरण छा गया था.

गौरतलब है कि इस हमले के कुछ दिनों बाद यह पता चला था कि इस हमले में पाकिस्तान में मौजूद हाफिद सईद का आतंकी संगठन 'लश्कर-ए-तैयबा' का हाथ था. बताते चले कि इस घटना को 10  आतंकवादियों ने अंजाम दिया था. लश्कर-ए-तैयबा के 10 आतंकवादियों में से 9 आतंकवादियों को भारतीय सुरक्षाकर्मियों ने मौके पर ही ढेर कर दिया था, जबकि एक आतंकवादी को जिंदा पकड़ लिया था. जिसका नाम अजमल कसाब था. जिसको कुछ दिनों बाद कोर्ट से मौत की सजा मिलने के बाद फांसी पर चढ़ा दिया गया था.

इस हमले की साजिश पाकिस्तान की धरती पर रची गई थी. इसलिए भारत सहित अमेरिका ने भी कई बार पाकिस्तान को इस हमले में अभी तक कोई ठोस कदम नहीं उठाने पर वैश्विक मंच पर कई बार फटकार लगाया है. अब अमेरिका ने मुंबई हमले की 10वीं बरसी पर इस हमले में शामिल किसी भी आरोपी या उसकी दोषसिद्धि के लिये सूचना देने वालों को 50 लाख डॉलर का इनाम देने का घोषणा किया है.

विवेक राय, कृषि जागरण

Comments