1. ख़बरें

आम आदमी इन 5 महत्वपूर्ण नियमों का रखें खास ध्यान, नहीं तो होगा आर्थिक नुकसान

कंचन मौर्य
कंचन मौर्य
bank

जुलाई में कई ऐसे आर्थिक बदलाव किए गए हैं, जिनकी जानकारी सभी लोगों को होना बहुत ज़रूरी है. अगर आपको इन बदले नियमों की जानकारी नहीं है, तो इसका सीधा प्रभाव आपकी जेब पर पड़ सकता है, इसलिए अगर आप जुर्माने से बचना चाहते हैं, तो आपको कुछ विशेष नियमों का पालन करना होगा. एक तरफ नए नियमों से राहत मिली है, तो वहीं कुछ नियमों से आपको आर्थिक नुकसान पहुंच सकता है, तो आइए आपको इन महत्वपूर्ण बदलावों के बारे में बताते हैं.

ATM से कैश निकालने पर चार्ज

वित्त मंत्रालय ने कोविड-19 की वजह से ऐलान किया था कि 30 जून तक किसी भी बैंक के डेबिट या एटीएम कार्ड से कैश निकालने पर चार्ज नहीं लगाया जाएगा. मगर जुलाई से इस नियम में बदलाव कर दिया गया है. अब एटीएम से कैश निकालने पर सभी तरह का ट्रांजेक्शन चार्ज लगाया जाएगा. बता दें कि हर महीने मेट्रो शहर में 8 और गैर मेट्रो शहरों में 10 बार से ज्यादा कैश निकालने पर चार्ज देना होगा. बता दें कि सामान्य तौर पर दूसरे बैंक के एटीएम से एक निश्चित संख्या तक ही कैश निकाला जा सकता हैं. इसके बाद निकासी पर चार्ज लगाया जाता है.

atm

खाते में न्यूनतम बैलेंस होना जरूरी

बचत खाते में जुलाई से न्यूनतम बैलेंस में छूट का नियम खत्म हो गया है. इसके चलते अगर आपके खाते में न्यूनतम बैलेंस नहीं है, तो आप पर बैंक द्वारा पेनाल्टी लगाई जा सकती है. बता दें कि मेट्रो सिटी, शहरी, अर्ध शहरी और ग्रामीण इलाकों में बैंक अपने अनुसार न्यूनतम बैलेंस तय करते हैं.

अटल पेंशन योजना में बड़ा बदलाव

अगर आप इस योना का लाभ उठाते हैं, तो आपके लिए जान लेना जरूरी है कि सरकार ने 1 जुलाई से योजना में बदलाव कर दिया है. दरअसल, 1 जुलाई से अटल पेंशन योजना के खातों में से मासिक योगदान का ऑटो डेबिट होना शुरू हो गया है. बता दें कि पेंशन फंड रेगुलेटरी एंड डेवलपमेंट अथॉरिटी द्वारा ऑटो डेबिट को 30 जून तक रोकने का निर्देश दिया गया था. इसके बाद एक बार फिर इस नियम को लागू कर दिया है.

paisa

म्यूचुअल फंड की खरीद पर लगेगी स्टांप ड्यूटी

जुलाई से म्यूचुअल फंड खरीदने पर स्टांप ड्यूटी भी देनी होगी. अगर आप सिस्टेमेटिक इंवेस्टमेंट प्लान (एसआईपी) और सिस्टेमेटिक ट्रांसफर प्लान (एसटीपी) द्वारा म्यूचुअल फंड में पैसा लगाते हैं, तो आपको स्टांप ड्यूटी देनी होगी. जबकि इसकी निकासी पर निवेशकों को स्टांप ड्यूटी नहीं देनी होती है. बता दें कि यह नियम स्टांप ड्यूटी डेट और इक्विटी सभी तरह के म्यूचुअल फंड पर लागू होगा. इसका सबसे ज्यादा असर डेट फंड पर देखने को मिलेगा.

पीएम किसान सम्मान निधि योजना में पंजीकरण

केंद्र सरकार की इस योजना के तहत सालाना किसानों को 6 हजार रुपए की राशि 3 किस्तों में भेजी जाती है. किसानों को इस योजना की 5 किस्तें भेजी जा चुकी हैं. किसान इस योजना का लाभ उठाने के लिए 30 जून तक पंजीकरण करा सकते थे. जिन किसानों ने 30 जून तक ओवदन कर दिया था, अगर उनका आवेदन स्वीकार हो जाता है, तो जुलाई में 2 हजार रुपए की राशि खाते में बेज दी जाएगी. इसके अलावा अगस्त में भी 2 हजार रुपए की किस्त भेजी जाएगी.

English Summary: The central government has changed many rules since July

Like this article?

Hey! I am कंचन मौर्य. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News