News

सुमिन्तर इण्डिया ने आयोजित किया किसान मेला, किसानों ने सीखे जैविक खेती के गुण ...

आज दिनांक 8-3-2018 गांव कोहका जटेखर में सुमिंतर इंडिया ऑर्गनिक्स प्रा.लि. द्वारा सुमिंतर सेंद्रिय गौरव पुरुस्कार-2018 तथा सेंद्रिय शेती प्रदर्शनी का आयोजन किया गया। जिसमें सुमिंतर कंपनी के मुख्यालय से दीपक वसंत एवं संजय श्रीवास्तव कि उपस्थिति थी तथा महाराष्ट्र के प्रकल्प व्यवस्थापक राजीव पाटिल एवं सुमिंतर प्रकल्प के अन्य अधिकारी की उपस्थिति थी।

इस किसान मेले में 1200 कृषक एवम 300 महिला आने वाले सभी किसानों का सहभाग या सर्वप्रथम आने वाले सभी किसानों का पंजीकरण हुआ। पंजीकरण के समय कृषि जागरण एवम स्थानीय वन्य पत्तियों से बना कीटनाशी का विवरण किया गया। जिसे सुमिंतर कंपनी के कर्मचारियों ने बनाया था।

सेंद्रिय खेती प्रदर्शनी में सुंमितर कंपनी की ओर से मृदा परीक्षण, बीज उपचार, खाद निर्माण के विविध पद्धति, वेस्ट डी-कम्पोस्ट, पंचगव्य नीमास्त्र, अग्निअस्त्र, बह्यअस्त्र फेरोमेन ट्रम लमीत अर्क का सचित्र प्रदर्शन किया गया तथा विविध स्थानों से आए किसान भाईयों के टी-स्टाल का आयोजन किया गया था।

कार्यक्रम का संचालन: महेश उन्हाके, राहुल चैखेडे

कार्यक्रम का स्थानीय आयोजन: श्री विðल तुपाडे आत्ती सीजन

कंचन अतुल लंवगे-सरपंच ग्राम कोहका

शीतल लंवगे - पुलिस पाटील कोहका

डॉ. संजय देशमुख-गोमती गोमुख संस्थान

डॉ. मंगेश देशमुख-निदेशक स्मार्ट आत्मा

डॉ. के.पी. सिंह-कृषि विज्ञान केंद्र अमराबती

आये हुए अतिथि जनों ने अपने अनुभव एवम माहीती के और से किसान भाईयों का मार्गदर्शन किया।

संजय श्रीवास्तव जी ने किसान भाईयों के साथ प्रश्नोंत्तर का आयोजन किया जिसमें महिला किसान ने सहभाग लिया एवम पुरूस्कार प्राप्त किया।

पूछे गए प्रश्नों के सही उत्तर देने वाले किसानों को पुरूस्कृत किया गया। कार्यक्रम में छोटी सी नाटिका का आयोजन किया गया जिसमें सेंद्रिय एवम असेंद्रिय तरीके से कि जाने वाली खेती के फायदे एवं नुकसान के बारे में किसान भाईयों में जागरूकता निर्माण कि गई। अंत में आए हुए किसान भाईयों में से उत्कृष्ट 40 किसानों को सामान चिन्ह् एवम पत्रिका देकर सम्मानित किया गया तथा 40 महिला बचत समूह को भी प्रमाण पत्र देकर सम्मानित किया गया।



Share your comments


Subscribe to newsletter

Sign up with your email to get updates about the most important stories directly into your inbox

Just in