शुगर फ्री और मीठे अमरुद एक ही पेड़ पर

शुगर फ्री अमरूद जी हाँ हम डाइबिटीज से पीड़ित सभी लोगो के बारे में खुशखबरी ले कर आएं हैं अब पेड़ पर ही डयबिटीज फ्री अमरुद के फल को उगाया जायेगा |ऐसा करने वाले हैं इंदौर कृषि महाविद्यालय के वैज्ञानिक हरी सिंह ठाकुर ने एक किसान राजेश बग्गड़ के एक एकड़ खेत में थाई अमरुद के 2500 पौधे लगवाए और एक विशेष प्रक्रिया के तहत एक पेड़ से ही शुगर फ्री और मीठे अमरुद का उत्पादन  किया |आपको हम बता दें कि जिस अमरुद को शुगर फ्री करना था उसे सूर्य की किरणों से बचने के लिए पहले फोम से कवर किया गया उसके बाद प्लास्टिक की एक लेयर लगाते जिसका मुंह निचे से कटा हो और फिर एक कागज़ के लिफाफे से ढंका जाता है |

ऐसा इसलिए किया जाता है की सूर्य की किरणों से फल का बचाव हो कियुँकि सूर्य की किरणें से ही फलों में स्वाद आता है और जिन फलों को ढँक दिया गया था उन फलों का स्वाद फीका था और शुगर लेवल भी कम था  कृषि वैज्ञानिकों का कहना है की इस प्रयोग के बाद काफी बेहतर परिणाम सामने आएं हैं इस फल को डयबिटीज पीड़ित सभी मरीजों को खिलाया गया और परिक्षण के बाद सभी का शुगर सामान्य था तो आने वाले समय में सब शुगर से पीड़ित मरीज अमरुद का स्वाद चख सकते हैं |थाई अमरुद इसके एक पेड़ पर 80 किलो तक अमरुद लगते हैं और एक फल लगभग 1.25 किलोग्राम का होता है इससे आने वाले समय में किसान भाइयों को आय को बढ़ाने में सहायता होगी और शुगर पीड़ित मरीजों को भी उनके मन पसंद फल खाने को मिलेगा    

Comments