News

राज्यों में उर्वरकों के पर्याप्त भंडार उपलब्ध: सदानंद गौड़ा

केन्द्रीय रसायन व उर्वरक, सांख्यिकी एवं कार्यक्रम कार्यान्वयन मंत्री श्री डी.वी. सदानंद गौड़ा ने 5 दिसम्बर को दिल्ली में कहा है कि सभी राज्यों में उर्वरकों (खादों) के पर्याप्त भंडारण उपलब्ध हैं. खादों के किसी भी आकस्मिक जरूरत से निपटने के लिए उर्वरकों का भंडारण पर्याप्त है. गौड़ा ने बताया कि उर्वरक विभाग उर्वरकों के परिवहन के लिए भारतीय रेल के साथ दैनिक स्तर पर समन्वय कर रहा है. रबी के मौसम को देखते हुए देश में पर्याप्त उर्वरक उपलब्धता के लिए दैनिक स्तर पीआर निगरानी की जा रही है. उन्होंने बताया कि कृषि सहयोग और किसान कल्याण विभाग, उर्वरक विभाग तथा भारतीय रेल द्वारा 4 दिसंबर, 2018 को संयुक्त रूप से आयोजित वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में देश के सभी राज्यों ने उर्वरकों के पर्याप्त स्टॉक उपलब्ध होने की सूचना पहुंचा दी है.    

खरीफ मौसम के लिए वर्ष 2018 में साल 2017 के मुकाबले 250 अतिरिक्त रेल डिब्बों की व्यवस्था की गई है. रबी के लिए साल 2018-19 (अक्टूबर, 2018 से मार्च, 2019 तक) के लिए यूरिया की अनुमानित जरूरत 155.84 एलएमटी आंकी गई है. कुल अनुमानित मात्रा का अधिकांश भाग घरेलू उत्पादन से पूरा हो जाएगा. यूरिया के घरेलू उत्पादन का अनुमान 129 एलएमटी है. शेष जरूरत को आयात से पूरा कर लिया जाएगा.   

महीने की आपूर्ति योजना के तहत उर्वरकों की आपूर्ति की जाती है. हर महीने के शुरूआत में आपूर्तिकर्ताओं की सलाह से मासिक आपूर्ति योजना तैयार की जाती है. प्रत्येक राज्य की अनुमानित जरूरत के हिसाब से उर्वरकों की आपूर्ति की जाती है. जब राज्य उर्वरक प्राप्त कर लेते है तो उनके राज्य में वितरण की जिम्मेदारी राज्य सरकारों की है.

प्रभाकर मिश्र, कृषि जागरण



Share your comments