News

झींगा कारोबारियों को लग सकता है झटका

देश में चल रहा नोटबंदी और वायरल के अटैक का असर झींगे के फार्म्स पर भी साफ़ देखा जा सकता है । इससे सीफूड एक्सपोर्ट में भी अस्थायी तौर पर कमी आ सकती है। साल की पहली छमाही में देश से सीफूड का एक्सपोर्ट ऊंचा रहा है।

नवंबर में नोटबंदी के फैसले के बाद से एक्सपोर्टर्स के लिए कर्मचारियों का तनख्वाह देना मुश्किल हो रहा है। झींगा कारोबारियों का कहना है कि नोटबंदी के इस फैसले की वजह से समुद्र से मछली पकड़ने में गिरावट आई है। मछुआरे लैंडिंग सेंटर्स पर कैश में पेमेंट लेते हैं। हमें पिछले डेढ़ महीने से काफी मुश्किल हो रही है |



Share your comments