News

रेलवे का तोहफा : इन यात्रियों के किराए में 40 % तक की छूट

नए साल की शुरुआत होने वाली है और इस साल भारतीय रेलवे यात्रियों को कई बड़े तोहफे देने वाली हैं. उन्हीं तोहफों में से एक तोहफा यह भी है कि रेलवे ने मेल, एक्सप्रेस, राजधानी और दुरंतो जैसी ट्रेनों में वरिष्ठ नागरिकों और महिला यात्रियों के सफर के लिए लोअर बर्थ (निचली सीट) का कोटा बढ़ा दिया है. गुरुवार को रेलवे की ओर से जारी एक आधिकारिक बयान के मुताबिक, वरिष्ठ नागरिकों (45 साल) या उससे अधिक उम्र की महिला यात्रियों और गर्भवती महिलाओं के लिए लोवर बर्थ कोटे के तहत सीटों की संख्या बढ़ाई जाएगी.

रेल मंत्रालय के मुताबिक, उसने कोटा को संशोधित किया है और सामान्य मेल और एक्सप्रेस ट्रेनों में किसी खास श्रेणी के एक कोच होने पर उस कोच में लोवर बर्थ कोटा के तहत आरक्षित सीटों की संख्या बढ़ाकर 13 कर दी है. जारी बयान में  यह भी कहा गया है कि अगर किसी खास श्रेणी के कोच की संख्या एक से अधिक हो तो लोवर बर्थ कोटा के तहत आरक्षित सीटों की संख्या बढ़कर 15 हो जाएंगी. इसमें आगे यह भी कहा गया है कि राजधानी, दुरंतो और अन्य एसी ट्रेनों में इस कैटोगरी के तहत सीटों की संख्या बढ़ाकर हर कोच में 9 की गई है.

रेल मंत्रालय के मुताबिक, वर्तमान में वरिष्ठ नागरिकों ( 45 वर्ष ) या उससे अधिक उम्र वाली महिलाओं और गर्भवती महिलाओं के लिए रेलगाड़ी के शयनयान, एसी-3 टीयर और एसी-2 टीयर में 12 लोअर बर्थ निर्धारित है. राजधानी, दुरंतो और अन्य पूर्ण रूप से वातानुकूलित एक्सप्रेस ट्रेनों में इनके लिए आरक्षित सीटों की संख्या 7 है.

गौरतलब है कि रेलवे की नई सुविधा के अनुसार किन्नरों को सीनियर सिटीजन पुरुष-महिला की तरह ही अब रेल किराए में रियायत मिलेगी. मध्य रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी सुनील उदासी के मुताबिक रेल मंत्रालय ने अगले साल से ऐसे ट्रांसजेंडर यात्रियों को किराये में 40 फीसद तक की छूट देने का निर्णय लिया है. नया आदेश 1 जनवरी, 2019 से लागू होगा.



English Summary: railways increase lower berth quota for senior citizens and women

Share your comments


Subscribe to newsletter

Sign up with your email to get updates about the most important stories directly into your inbox

Just in