1. Home
  2. ख़बरें

PM Kisan: किसानों का इंतजार होगा खत्म, इस नवरात्रि आएंगे खाते में 2 हजार रुपए

किसानों के लिए बड़ी खबर, बता दें कि इस नवरात्र किसानों के खाते में 2 हजार रुपए भेजे जाएंगे..

निशा थापा
pm kisan 12th installment
pm kisan 12th installment

नवरात्रि किसानों के जीवन में खुशियां लेकर आने वाली हैं. बता दें कि प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि की किस्त आने के लिए अब बस कुछ ही वक्त बचा है. जिसको लेकर अब कवायत तेज हो गई है. उम्मीद लगाई जा रही है कि इस नवरात्र किसानों के खाते में पीएम सम्मान निधि की 12वीं किस्त आ जाएगी.

पीएम किसान सम्मान निधि योजना

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना, देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा किसानों की आय दोगुनी करने के उद्देश्य से चलाई जा रही योजना है. यह योजना 1 दिसंबर 2018 को शुरु की गई थी. जिसके तहत हर साल किसानों के खाते में 6 हजार रुपए की राशि 3 किस्तों में भेजी जाती है. 3 किस्तों में 2-2 हजार रुपए की राशि सम्मिलित होती है. बता दें कि पीएम सम्मान निधि की 11वीं किस्त 31 मई 2022 को किसानों के खाते में आई थी. जिससे करीब 10 करोड़ से अधिक किसानों को इसका लाभ मिला था.

पीएम सम्मान निधि के लिए हलचल तेज

पीएम सम्मान निधि की 12वीं किस्त को लेकर हलचल काफी तेजा हो गई है. ऐसा इसलिए है क्योंकि पीएम सम्मान निधि को लेकर भूलेख सत्यापन में तेजी आई है. लेकिन इस बार उम्मीद जताई जा रही है कि सम्मान निधि के लाभार्थियों में कमी आएगी.

यह भी पढ़ें : दशहरे और दिवाली से पहले सरकारी कर्मचारियों को मिली बड़ी खुशखबरी, 3 फीसदी बढ़ा DA

फर्जी लाभार्थियों का होगा सफाया

पीएम सम्मान निधि की 12वीं किस्त आने के लिए देरी हो रही है. इसका कारण है कि सरकार फर्जी लाभार्थियों की पहचान कर रही है. पहचान होने पर उनके आवेदन रद्द किए जा रहे हैं. जिससे इस बार पीएम सम्मान निधि की किस्त कम लाभार्थियों को मिलेगी.

English Summary: PM Kisan: The wait of farmers will be over, this Navratri will come 2 thousand rupees in the account Published on: 24 September 2022, 03:05 IST

Like this article?

Hey! I am निशा थापा . Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News