News

किसानों से इस योजना के लिए 38.10 लाख आवेदन प्राप्त, 17 लाख आवेदन अभी बाकि

kisan yojna

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि कि शुरुआत भारत सरकार  द्वारा कि गयी. ताकि इससे छोटे ओर सीमांत किसानों को लाभ मिल सके. देशभर के लगभग सभी राज्यों से आवेदन किये गए. अब सरकार इसमें तेजी लाने की कोशिश कर रही है. इसके लिए सरकार  भी प्रतिबद्ध है. राजस्थान के किसानों से प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि के लिए आवेदन आमंत्रित किये गए थे जिसमें  इस योजना के पात्र लगभग 38.10 लाख किसानों के आवेदन ऑनलाइन मिल गए हैं. हालांकि अभी 17 लाख किसानों के आवेदन अभी बाकी है यह बाकी बचे किसानों के आवेदन इस महीने के आखिर तक अपलोड किए जाने हैं.

इस सन्दर्भ में मुख्य सचिव डी.बी. गुप्ता ने  इस योजना की प्रगति की समीक्षा की और जिला कलेक्टरों से कहा कि वे इस योजना के लंबित प्रकरणों को एक सप्ताह में निपटाएं. उन्होंने कहा कि संशोधित दिशानिर्देश के अनुसार योजना के दायरे में आने वाले सभी किसानों के आवेदन 30 जून तक पोर्टल पर अपलोड किए जाएं. गुप्ता ने कहा कि पहले सीमांत व लघु किसान ही इस योजना के पात्र थे लेकिन केंद्र सरकार की संशोधित गाइड लाइन के अनुसार वृहद किसानों को भी इसमें शामिल किया गया है.

peddy

55 लाख किसान है पात्र

उन्होंने कहा कि आकलन के अनुसार राज्य के लगभग 55 लाख किसान पात्र हैं जिनमें से 38.10 लाख किसानों के आवेदन मिले. जबकि  बाकी बचे 17 लाख किसानों के आवेदन भी जल्द से जल्द लिए जाएं. 

जल्दी सत्यापन के लिए कहा 

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के अंतर्गत  सचिव ने कहा कि 34.50 लाख किसानों के आवेदन पीएम किसान पोर्टल पर अपलोड किए जा चुके हैं जिसमें से 19.34 लाख आवेदनों का पटवारियों द्वारा सत्यापन कर लिया गया है. बाकी बचे लगभग 19 लाख आवेदनों का पटवारी के स्तर पर शीघ्र सत्यापन करवाया जाए. ताकि इससे किसानों को जल्दी  फायदा मिल सके.  



Share your comments