News

लोगों ने गेट पर लिखवाया, डोर बेल खराब है, कृपया दरवाजा खुलवाने के लिए मोदी-मोदी चिल्लाएं

17 वीं लोकसभा चुनाव के पहले चरण के लिए आज मतदान हो रही है . आज 545 सीटों में से 91 सीटों के लिए वोट डाले जा रहे है. इनमें 18 राज्यों के साथ 2 केंद्र शासित प्रदेश भी शामिल हैं. आंध्र और तेलंगाना समेत 8 राज्यों में पहले चरण ही वोटिंग पूरी हो जाएगी. चुनाव आयोग के आकड़े के मुताबिक पहले चरण में 14 करोड़ मतदाता 1279 उम्मीदवारों की क़िस्मत का फ़ैसला करेंगे. पहले चरण में 1190 पुरुष और 89 महिला उम्मीदवार सियासी मैदान में हैं. आज इन सभी  उम्मीदवारों की क़िस्मत ईवीएम में क़ैद हो जाएगी. बता दे कि आंध्र प्रदेश, ओडिशा, सिक्किम और अरुणाचल प्रदेश में आज ही विधानसभा चुनाव के लिए भी वोटिंग है.कोई अराजक तत्व शांतिपूर्ण मतदान में कोई व्यवधान उत्पन्न न करें उसके लिए कड़े सुरक्षा इंतज़ाम किए गए हैं. यह पहला मौक़ा है जब सभी पोलिंग बूथ पर VVPAT का इस्तेमाल हो रहा है. 7 चरणों के मतदान के बाद 23 मई को नतीजे आएंगे .

हालांकि पहले चरण से ही आम चुनाव के समर में रोचक नजारे दिखाई देने लगे हैं. दरअसल मुरैना शहर के रामनगर क्षेत्र में तक़रीबन 50 घरों के दरवाजों पर लगे पोस्टर चौंका रहे हैं. दरवाजों के गेट पर लोगों ने  पोस्टर पर प्रिंट कराया है कि 'डोर बेल खराब है. कृपया दरवाजा खुलवाने के लिए मोदी-मोदी चिल्लाएं. 'मीडिया  में आई ख़बरों के मुताबिक, रामनगर निवासी गिर्राज शर्मा ने बताया कि उनके घर की घंटी खराब हो गई. तभी उन्हें आईडिया आया कि क्यों न कुछ हटकर किया जाए. इसलिए उन्होंने अपनी डोरबेल के नीचे कागज पर लिखवाया है कि डोरबेल खराब है.  इसलिए घंटी न बजाएं.  बल्कि मोदी-मोदी चिल्लाएं.

इसी तरह मुरैना शहर के रामनगर दिनेश सिंघल ने भी बताया कि उनके घर की घंटी भी बहुत पहले खराब हो गई.  जब उन्होंुने गिर्राज शर्मा के यहां देखा तो उन्होंने भी अपने घर की दीवार पर लिख दिया, डोरबेल खराब है. इसलिए घंटी न बजाएं. बल्कि मोदी-मोदी चिल्लाएं.



Share your comments