जैविक खेती में 33 प्रतिशत की बढ़ोतरी, योजनाओं के विषय में जानने के लिए क्लिक करें

जैविक खेती को हम जीवन का सार कह सकते हैं क्योंकि जिस तरीके का खाना आज हम खा रहे हैं उससे हमारे शरीर को नुक्सान तो पहुँच ही रहा है. साथ ही साथ हम बिमारियों शिकार भी हो रहे हैं. क्योंकि अधिकतर फसलों में अंधाधुंध कीटनाशकों का इस्तेमाल किया जाता है. सरकार देश में जैविक खेती को बढ़ावा देने लिए काफी प्रयास कर रही है. सरकार के इन प्रयासों की बदौलत ही देश में जैविक खेती का रकबा बढ़ा है. यदि देखा जाए तो साल 2013-14 के मुकाबले कृषि 2016-17 में जैविक खेती में लगभग 38 प्रतिशत की वृद्धि देखने को मिली है. यह जानकारी एपीडा द्वारा दी गयी है. इस साल कुल प्रमाणित जैविक उत्पादन का 38 प्रतिशत बढ़ा है. जैविक खेती के देश के किसान अपना रहे हैं. जैविक खेती देश की जरुरत है और किसानों को इसकी और लेकर जाने की बहुत अधिक आवश्यकता हैं. नार्थ ईस्ट में पहले ही जैविक खेती बड़े पैमाने पर की जा रही हैं. अन्य राज्यों की सरकारे भी जैविक खेती के लिए सरकारी योजनाए पहले ही लागू कर चुकी है.

 

किसान क्जैविक खेती सम्बंधित सरकारी योजनाओं के विषय में और अधिक जानने के लिए यहाँ क्लिक करें :

https://ncof.dacnet.nic.in/Policy_and_EFC/Organic_Farming_Policy_2005.pdf

 

Comments