प्याज की न्यूनतम निर्यात मूल्य सीमा को हटाया गया.

प्याज के घटते –बढ़ते दामों से बाजार में भी उतार चढाव होता रहता है. अभी प्याज के दाम कम होना शुरू ही हुए थे की सरकार ने घरेलू बाजार में प्याज के गिरते दामों को देखते हुए इस पर से न्यूनतम निर्यात मूल्य की सीमा हटा ली है.  इससे घरेलू बाजार में इसके दाम और बढ़ाने में मदद मिलेगी  विदेश व्यापार महानिदेशालय के अनुसार सभी तरह के प्याज के निर्यात पर से न्यूनतम निर्यात मूल्य की सीमा समाप्त कर दी गई है इसके लिए लैटर ऑफ क्रैडिट की आवश्यकता को भी समाप्त कर दिया गया है


सर कार का कहना है कि इससे न केवल निर्यात कारोबारियों को फायदा मिलेगा, बल्कि किसानों को भी लाभ होगा भारतीय प्याज निर्यातकों को अंतर्राष्ट्रीय बाजार में प्याज की बिक्री करने में आसानी होगी उसका कहना है कि प्याज को निर्यात मुक्त करने से किसानों को बेहतर दाम मिलेंगे और अगले साल इसका रकबा बढऩे की उम्मीद बनेगी. सरकार का कहना है कि इससे किसानों को फायदा मिलेगा, उनको इससे प्याज के अच्छे दाम मिलने की उम्मीद है.

 

Comments