News

एनडीएमसी के कारण ही है दिल्ली में चारों तरफ हरियाली, दिन-रात राजधानी की सेवा में तत्पर रहती है टीम

भारत की राजधानी दिल्ली आर्थिक, सामाजिक, राजनैतिक और सांस्कृतिक कारणों से लोगों के लिए सदैव आकर्षण का कारण रही है. पर्यटन के मामले में भी इस शहर का कोई जवाब नहीं है. 2012 के आंकड़ों के मुताबिक दिल्ली की आबादी 29 मिलियन से भी अधिक है. देश की राजधानी होने के कारण भारत सरकार के सभी प्रमुख कार्यालय जैसे राष्ट्रपति भवन, संसद भवन, प्रधानमंत्री निवास यहीं पर स्थित है. लेकिन इस शहर की खूबसूरती को बनाए रखना इतना आसान नहीं है.

वैसे क्या आपने कभी ध्यान दिया है कि घनी आबादी, प्रदुषण और अस्थिर मौसम में भी दिल्ली के रोड्स, पार्क्स और फूटपाथ आदि कैसे हरे-भरे खूबसूरत नजर आते हैं. कौन इनके कल्टीवेशन, कन्ज़र्वेशन, सॉइल मैनेजमेंट, गार्डन डिज़ाइन, कंस्ट्रक्शन और मेंटेनेंस का ख्याल रखता है. अगर नहीं तो आज हम आपको बताएंगे कि दिल्ली की खूबसूरती की जिम्मेदारी किसके कन्धों पर है.

एनडीएमसी रखती है दिल्ली की खूबसूरती का ख्याल
इंडिया गेट लॉन, पार्क और गार्डन्स जैसे आम सार्वजनिक क्षेत्रों में हर मौसम में बसंत की अनुभूति होती है. ऐसा इसलिए है क्यूंकि न्यू दिल्ली म्युनिसिपल कौंसिल  (New Delhi Municipal Council) हर दिन राजधानी की खूबसूरती को लेकर तत्पर रहती है. दर्शनीय स्थलों को आकर्षक बनाना, पेड़-पौधों का ख्याल रखना, रोड्स, सर्विस लाइन को गमलों से सजाना एनडीएमसी का ही काम है. मेट्रो पिल्लर्स पर वर्टीकल गार्डनिंग करना अगर एक कला है तो एनडीएमसी को इसमें दक्षता प्राप्त है.

ये कौंसिल किस तरह काम करती है इसकी अधिक जानकारी के लिए एनडीएमसी के डायरेक्टर ऑफ हॉर्टिकल्चर एस. चेल्लाइआह (s.chellaiah) से कृषि जागरण की टीम ने मुलाकात किया. इस दौरान चेल्लाइआह ने बताया कि उनके नेतृत्व में 1500 लोग काम करते हैं. उनकी टीम शहर की सुंदरता को बनाए रखने के लिए प्रतिबद्ध है. उन्होंने कहा कि हमारी विशेष बागवानी टीम बारहमासी और मौसमी रोपण का काम करती है. रोपण के बाद उनके रखरखाव का ख्याल भी हमे ही रखना होता है.

फ्लावर फेस्टिवल्स का आयोजन
हरियाली के इन रखरखाव के अलावा एनडीएमसी कई फूलों के त्योहारों का आयोजन भी करती है, जिसे आम जन फ्लावर फेस्टिवल्स के नाम से जानते हैं. इन त्योहारों से व्यापार को बढ़ावा मिलता है. एस. चेल्लाइआह ने बताया कि नई दिल्ली नगरपालिका परिषद क्षेत्र में कई हरे भरे क्षेत्रों के अलावा  1200 कॉलोनी पार्क, 1500 एकड़ हरी जमीन और 52 गोल चक्कर हैं. शहरी बागवानी का महत्व समग्र महानगर स्वच्छ हवा प्रदान करना भी है.



English Summary: NDMC making Delhi clean and green know more about the work of New Delhi

Share your comments


Subscribe to newsletter

Sign up with your email to get updates about the most important stories directly into your inbox

Just in