MFOI 2024 Road Show
  1. Home
  2. ख़बरें

हुगली में आयोजित हुआ Samridh Kisan Utsav, बाजरे की खेती और चावल के रोग एवं कीट प्रबंधन पर हुई चर्चा

MFOI Samridh Kisan Utsav 2024: पश्चिम बंगाल के हुगली में 9 जुलाई को 'एमएफओआई-समृद्ध किसान उत्सव 2024' का आयोजन किया गया, जिसमें काफी अच्छी खासी संख्या में किसानों ने भाग लिया. महिंद्रा ट्रैक्टर्स द्वारा प्रायोजित इस कार्यक्रम की थीम 'समृद्ध भारत के लिए किसानों की आय को अधिकतम करना' रखी गई.

KJ Staff
पश्चिम बंगाल के हुगली में 'एमएफओआई समृद्ध किसान उत्सव' में विशेषज्ञ एकत्रित हुए (Picture Credit - Krishi jagran)
पश्चिम बंगाल के हुगली में 'एमएफओआई समृद्ध किसान उत्सव' में विशेषज्ञ एकत्रित हुए (Picture Credit - Krishi jagran)

MFOI Samridh Kisan Utsav 2024: कृषि जागरण ने मंगलवार, 9 जुलाई 2024 को पश्चिम बंगाल के हुगली जिले के पी.ओ.चिनसुरा में कृषि विज्ञान केंद्र, हुगली परिसर में 'एमएफओआई समृद्ध किसान उत्सव' का आयोजन किया. महिंद्रा ट्रैक्टर्स द्वारा प्रायोजित, इस कार्यक्रम की थीम 'समृद्ध भारत के लिए किसानों की आय को अधिकतम करना' रखी गई है और मुख्य उद्देश्य किसानों को कृषि में नवीनतम प्रथाओं और नवाचारों के साथ जोड़ना रहा. इस कार्यक्रम में 230 से अधिक किसानों ने भाग लिया और खेती में इस्तेमाल होने वाली नई-नई तकनीकों और खेती-किसानी से जुड़ी जानकारी प्राप्त की.

केवीके परिसर में महिंद्रा ट्रैक्टर्स की प्रदर्शनी भी लगाई गई. इस दौरान जिले के किसानों ने महिंद्रा ट्रैक्टर्स के स्टॉल जाकर लेटेस्ट मॉडल्स की जानकारी ली है. इस 'एमएफओआई समृद्ध किसान उत्सव' 2024 को एवरेस्ट और आईसीएआर का भरपूर सहयोग प्राप्त हुआ.

बाजरा की खेती और चावल के रोग कीट प्रबंधन पर चर्चा

हुगली में आयोजित हुए 'एमएफओआई समृद्ध किसान उत्सव' 2024 में हुगली के जिला बागवानी अधिकारी डॉ. शुभोदीप नाथ ने अपने संबोधन में बागवानी विभाग की किसान कल्याण योजनाओं के बारे में उपस्थित लोगों को जानकारी दी. इसके अलावा, डॉ. अमिताव बनर्जी (सहायक निदेशक विस्तार शिक्षा, बीसीकेवी) देवेश चंद्र दास (उप निदेशक, कृषि डब्ल्यूबीपी एवं पीडी, एटीएमए, हुगली), डॉ. प्रताप मुखोपाध्याय (पूर्व प्रधान वैज्ञानिक, आईसीएआर-सीआईएफए, भुवनेश्वर), मदन मोहन कोले (कृषि कर्माध्यक्ष, हुगली) और  डॉ.कौशिक ब्रह्मचारी (विस्तार निदेशक, शिक्षा-बीसीकेवी) ने भी उपस्थित लोगों को कई महत्वपूर्ण विषयों पर जानकारी दी. डॉ. बिस्वजीत सराकर और सागर तमांग (हुगली, केवीके) ने ' बाजरा की खेती और चावल के रोग कीट प्रबंधन पर एक संवादात्मक चर्चा' के दौरान बहुमूल्य जानकारी साझा की. इस कार्येक्रम में लगभग 230 से अधिक किसानों ने भाग लिया.

पश्चिम बंगाल के हुगली में 'एमएफओआई समृद्ध किसान उत्सव' की झलक
पश्चिम बंगाल के हुगली में 'एमएफओआई समृद्ध किसान उत्सव' की झलक

किसानों को किया प्रमाण पत्र से सम्मानित

इस कार्यक्रम का मुख्य आकर्षण, अतिथियों द्वारा जिले के प्रगतिशील किसानों को प्रमाण पत्र वितरित करना रहा, कृषि के क्षेत्र में योगदान और सफलता को मान्यता देने के लिए किसानों को प्रमाण पत्र से सम्मानित किया गया. कार्यक्रम का समापन धन्यवाद ज्ञापन के साथ हुआ, जो कृषक समुदाय को सशक्त और टिकाऊ कृषि पद्धतियों को बढ़ावा देने के सफल प्रयासों को दर्शाते हैं.

क्या है एमएफओआई 2024?

एमएफओआई/Millionaire Farmer of India Award किसानों को एक अलग पहचान दिलाने में मदद करता है. देश के किसानों को एक विशेष पहचान दिलाने के लिए कृषि जागरण ने 'मिलेनियर फार्मर ऑफ इंडिया’ अवॉर्ड शो की पहल शुरू की है, जिसके माध्यम से एक या दो जिले या फिर प्रदेश स्तर पर ही नहीं, बल्कि राष्ट्रीय स्तर पर किसानों को एक अलग पहचान मिलेगी. कृषि जागरण की यह पहल देशभर के किसानों में से कुछ अग्रणी किसानों को चुनकर राष्ट्रीय के अलावा, अंतरराष्ट्रीय स्तर पर एक अलग पहचान दिलाने का काम करेगी. इस अवॉर्ड शो में उन किसानों को सम्मानित किया जाएगा, जो सालाना 10 लाख रुपये से अधिक की कमाई कर रहे हैं और कृषि में नवाचार कर अपने आस-पास के किसानों के लिए मिसाल पेश कर रहे हैं.

MFOI अवार्ड्स 2024 का ऐसे बनें हिस्सा

एमएफओआई समृद्ध किसान उत्सव 2024/ MFOI Samridh Kisan Utsav 2024 में किसानों के अलावा, कृषि क्षेत्र से जुड़ी कंपनियां और अन्य लोग भी हिस्सा बन सकते हैं. इसके लिए आप MFOI 2024 या समृद्ध किसान उत्सव के दौरान स्टॉल बुक करने या किसी भी प्रकार की स्पॉन्सरशिप के लिए आप कृषि जागरण से संपर्क कर सकते हैं. वहीं, अवॉर्ड शो या अन्य किसी भी कार्यक्रम से संबंधित किसी भी जानकारी के लिए आपको इस गूगल फॉर्म को भरना होगा. कार्यक्रम से जुड़ी अधिक जानकारी के लिए MFOI की आधिकारिक वेबसाइट पर विजिट करें.

English Summary: mfoi samridh kisan utsav organized in Hooghly farmers millet cultivation and rice disease and pest management Published on: 09 July 2024, 06:14 PM IST

Like this article?

Hey! I am KJ Staff. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News