News

किसानों की आय होगी दोगुनी, केंद्र सरकार की कृषि उड़ान योजना करेगी मदद

कृषि उड़ान योजना (Krishi Udaan Yojna) का मुख्य उद्देश्य किसानों की आय दोगुनी करना है. इस योजना की मदद से किसान जल्दी खराब होने वाले अपने उत्पाद हवाई माध्यम से बेच सकते हैं.देश के किसानों को सशक्त बनाने के लिए केंद्र सरकार द्वारा कई योजनाएं चलाई जा रही हैं. किसानों की आय दोगुनी करके उन्हें अधिक लाभ दिलाने के लिए केंद्र सरकार द्वारा एक नयी योजना शुरू की गयी है. इस नई योजना का नाम कृषि उड़ान योजना है और इसकी मदद से किसानों की फसलों को देश भर की मंडियों तक सही समय पर पहुंचाया जाएगा ताकि किसान इससे अधिक लाभ ले सकें. इस योजना को शुरू करने का मकसद किसानों की आय को दोगुना करना है. इस योजना की पूरी जानकारी इस आर्टिकल के माध्यम से आप ले सकते हैं.

वर्ष 2020-21 के केंद्रीय बजट में निर्मला सीतारमण ने किसानों के लिए इस योजना की घोषणा की थी. इस योजना की मदद से किसानों को कृषि उत्पादों के परिवहन में सहायता दी जाएगी. किसानों की फसल सही समय पर पहुंचने से उनको फसलों के अधिक दाम मिल सकेगा. बजट पेश करते हुए निर्मला सीतारमण ने इस योजना को नेशनल, इंटरनेशनल रूट औऱ नागरिक उड्डयन मंत्रालय की सहायता से शुरू करने की बात की थी. इस योजना के माध्यम से जल्दी खराब होने वाले उत्पाद जैसे दूध, मछली, मांस आदि को सही समय पर हवाई माध्यम से बाजार पहुंचाया जाएगा.

किसानों को मिलेगा इस योजना से लाभ

इसका उद्देश्य किसानों को सस्ती परिवहन सेवा उपलब्ध कराना भी है. इसको कृषि विमान मंत्रालय के सहयोग से शुरू की किया गया है. इस योजना में किसानों को लगभग आधी सीटें रियायती दरों पर उपलब्ध कराई जाएंगी. इस सेवा के अंतर्गत किसानों को एक निश्चित राशि की फिजिबिलिटी गैप फंडिंग प्रदान की जाएगी. इसका अर्थ यह हुआ कि किसानों को हवाई सफर के लिए सब्सिडी उपल्बध होगी जिसकी राशि केंद्र और राज्य सरकारों के द्वारा वहन की जाएगी. इस योजना का मुख्य लाभ यह है की इससे किसान देश में कहीं भी अपनी फसल को उचित मूल्य पर बेच सकेंगे जिससे उनकी आय में वृद्धि होगी. इन उड़ानों को अंतर्राष्ट्रीय रूट पर भी संचालित किया जाएगा. अंतर्राष्ट्रीय रूट पर परिचालन से किसानों अपने फसल को देश के बाहर भी बेच सकते हैं जिससे उनको ज्यादा लाभ होगा.

ऑनलाइन बाजार का मिलेगा फायदा

इस सेवा के शुरू होने से किसानों को ऑनलाइन बाजार का भी फायदा मिलेगा. किसान आसानी से ऑनलाइन बाजार का भाव देखकर उस जगह पर उत्पाद बेच सकते हैं. कृषि उड़ान योजना से देश में निर्यात की संभावनाएं भी बढ़ेंगी और देश के उत्पाद को विश्व बाजार में पहचान भी मिलेगी.  

ऐसे करें ऑनलाइन आवेदन

इस योजना में जुड़ने के लिए सबसे पहले किसानों को अपना रजिस्ट्रेशन करवाना होगा. वहीं रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया भी ऑनलाइन रखी गई है. लेकिन, इस योजना की अभी तक कोई आधिकारिक सूचना सामने आयी है लेकिन इसके रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया को आसानी से समझा जा सकता है. नीचे आसान शब्दों में इस योजना के बारे में जानकारी दी गई है.

1.सबसे पहले बागवानी या खाद्य प्रसंस्करण विभाग की आधिकारित वेबसाइट पर जाएं.
2. वेबसाइट के होम पेज पर कृषि उड़ान योजना (Krishi Udaan Yojna) के लिंक पर क्लिक करें.
3. योजना के संबंध में दिए गये दिशा-निर्देशों को पढ़ कर आगे बढ़ें और फिर ऑनलाइन पंजीकरण फॉर्म खुल जाएगा.
4. फॉर्म खुलने के बाद उसमें दिए गए दस्तावेजों की जानकारी देकर आप आसानी से इस प्रक्रिया को पूरा कर सकते हैं.
5.दस्तावेजों के जमा हो जाने के बाद आप इसे आसानी से भेज (submit) दें.

ये खबर भी पढ़ें: KCC: किसान क्रेडिट कार्ड वाले किसोनों को मिलेगा लाभ, 2 लाख करोड़ का रियायती लोन देगी सरकार



English Summary: Krishi Udaan Scheme: Doubling Farmers Income will be the main objective of the Scheme.

Share your comments


Subscribe to newsletter

Sign up with your email to get updates about the most important stories directly into your inbox

Just in