इजरायली कृषि तकनीक को हरियाणा लाएंगे खट्टर....



इजराइल में अपनाई जा रही कृषि तकनीक को हरियाणा लाया जाएगा, जिससे कृषि उत्पादन में बढ़ोत्तरी के साथ ही किसानों को लाभ मिले। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने रविवार को रोहतक में अपने एक कार्यक्रम के दौरान यह बताया। उन्होंने कहा कि इजराइल के साथ मिलकर कृषि क्षेत्र में बढ़ावा देने के लिए योजना तैयार की गई है। वहां की कृषि तकनीक को हरियाणा में लाने के लिए वह मई में इजराइल जा रहे हैं। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि कृषि के क्षेत्र में इजराइल की तकनीक बेहद कारगर है। उसे जानने, समझने और सीखने की आवश्यकता है। इन तकनीकों को जानने के लिए उन्हें मई में इजराइल में आयोजित एग्रीटेक-2018 में जाने का न्यौता मिला है, जिसे उन्होंने स्वीकार कर लिया है। जहां इजराइल की ओर से कृषि में अपनाई जा रही नवीनतम तकनीक को देखने का मौका मिलेगा, जिसे हरियाणा में लाया जाएगा। इसके साथ ही होर्टीकल्चर के क्षेत्र में इजराइल का सहयोग मिलेगा।

उन्होंने देश भर में इजराइल के सहयोग से 30 सेंटर ऑफ एक्सीलेंसी चल रहे है, इनमें से पांच सेंटर हरियाणा में हैं। इजराइल के सहयोग से घरौंडा में भी सेंटर चल रहा है, जो सफल साबित हुआ है। देश भर से किसान घरौंडा के सेंटर का भ्रमण करने आते है। इजराइल की सारी तकनीक सीखने लायक है और किसानों के लिए लाभकारी भी है। इजराइल के साथ हरियाणा के पुराने संबंध है, जिसका कृषि क्षेत्र में लाभ उठाया जाएगा। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि युवा अधिकारियों को फील्ड ड्यूटी में रखना जिला प्रशासन समेत अन्य विभागों के लिए बेहतर है। 


मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर रोहतक में सेक्टर-1 स्थित नाबार्ड के चेयरमैन डॉ. हर्ष कुमार भनवाला के आवास पर पहुंचे थे। नाबार्ड चेयरमैन के बेटे का 16 मई को विवाह है और वह परिवार अपनी शुभकामनाएं देने के लिए विशेष तौर पर आए थे। इस मौके पर वरिष्ठ आईएएस देवेंद्र सिंह, जिला उपायुक्त डॉ. यश गर्ग, अतिरिक्त उपायुक्त अजय कुमार, भिवानी के एसपी सुरेंद्र सिंह भौरिया, नाबार्ड के चेयरमैन डॉ. हर्ष कुमार भनवाला, हरियाणा पब्लिक सर्विस कमीशन के सदस्य कुलबीर छिक्कारा, नगराधीश महेंद्रपाल, एसडीएम अरविंद मल्हाण, भाजपा जिला अध्यक्ष अजय बंसल, जिला महामंत्री सतीश आहूजा, जोगेंद्र सैनी, रणबीर ढाका, कुलविंद्र सिंह सिक्का और वजीर खोखर आदि उपस्थित थे।

Comments